Home /News /uttarakhand /

उम्र से नहीं कर्म से बनें युवा : प्रणव पंड्या

उम्र से नहीं कर्म से बनें युवा : प्रणव पंड्या

Dr. Pranav Pandya: File Photo

Dr. Pranav Pandya: File Photo

देव संस्कृति विश्वविद्यालय के कुलाधिपति डॉ. प्रणव पण्ड्या ने कहा कि आज संसार को ऐसे युवाओं की जरूरत है जो बेहतरी की दिशा में अपनी ऊर्जा लगाएं. उन्होंने कहा कि व्यक्ति उम्र से नहीं बल्कि कर्म से युवा होता है. डॉ. पण्ड्या देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के मृत्युजंय सभागार में नये छात्रों के स्वागत के लिए आयोजित कार्यक्रम में बोल रहे थे. उन्होंने कहा कि आज सभी

अधिक पढ़ें ...
    देव संस्कृति विश्वविद्यालय के कुलाधिपति डॉ. प्रणव पण्ड्या ने कहा कि आज संसार को ऐसे युवाओं की जरूरत है जो बेहतरी की दिशा में अपनी ऊर्जा लगाएं. उन्होंने कहा कि व्यक्ति उम्र से नहीं बल्कि कर्म से युवा होता है.

    डॉ. पण्ड्या देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के मृत्युजंय सभागार में नये छात्रों के स्वागत के लिए आयोजित कार्यक्रम में बोल रहे थे. उन्होंने कहा कि आज सभी

    विश्वविद्यालयों में उन्नयन जैसे कार्यक्रम की जरूरत है, जिससे जूनियर एवं सीनियर विद्यार्थियों का मतभेद खत्म हो. उन्होंने कहा कि किसी भी विश्वविद्यालय की पहचान उनके विद्यार्थियों से होती है. जो विश्वविद्यालय की गौरव गरिमा को आगे बढ़ाने के लिए निरंतर प्रयास रत रहते हैं.

    इस अवसर पर बीए तृतीय वर्ष के छात्र देवेन्द्र ठाकुर ने देव स्तुति के मनमोहक नृत्य के साथ कार्यक्रम में समा बांध दिया. इसके उपरान्त छात्र-छात्राओं ने समूह गान, समूह नृत्य, लघु नाटिका, मोनो एक्ट और जटिल योगासनों का प्रदर्शन किया.

    छात्रों ने विश्वविद्यालय की खूबियां और विभिन्नता को दर्शाते हुए भारतीय संस्कृति एवं अध्यात्मवाद का संदेश पहुंचाया. साथ ही देसंविवि में छात्र-छात्रओं ने व्यक्तित्व विकास के विविध आयाम स्वाध्याय, यज्ञ, गीता-ध्यान, प्रार्थना आदि को रचनात्मक तरीके से प्रस्तुत किया.

    Tags: Uttarakhand news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर