श्रीनगर मेडिकल कॉलेज में इस्तीफ़ों की झड़ी, प्रिंसिपल, 3 डॉक्टर गए

News18India
Updated: September 13, 2017, 6:37 PM IST
श्रीनगर मेडिकल कॉलेज में इस्तीफ़ों की झड़ी, प्रिंसिपल, 3 डॉक्टर गए
News18India
Updated: September 13, 2017, 6:37 PM IST
उत्तराखंड में मेडिकल एजुकेशन और स्वास्थ्य विभाग का बुरा हाल है. दून हॉस्पिटल, जो मेडिकल कॉलेज भी है,  बिस्तरों की कमी के लिए रोता है तो श्रीनगर मेडिकल कॉलेज में डॉक्टरों के इस्तीफे की झड़ी लगी है

तीन दिन में अब तक 4 डॉक्टर इस्तीफा दे चुके हैं और विवाद की वजह है एनेस्थीसिया विभाग की डिपार्टमेंट हेड प्रोफ़ेसर योग की पुनर्नियुक्ति.

सल 2016 में घपले के आरोपों में घिरने की वजह से महिला डॉक्टर प्रोफ़ेसर योग को प्रिसिंपल पद से हटा दिया गया था. उसके बाद ये जिम्मेदारी डॉक्टर रावत को सौंपी गई थी.

लेकिन तीन दिन पहले जैसे ही डॉक्टर योग ने जैसे ही दोबारा मेडिकल कॉलेज में ज्वाइन किया मौजूदा प्रिसिंपल डॉक्टर रावत ने इस्तीफ़ा दिया और सात दिन की छुट्टी पर चले गए.

विवादों में घिरी रहने वाली प्रोफ़ेसर योग से मेडिकल कॉलेज का ज्यादातर स्टाफ परेशान है. स्टाफ़ का कहना है कि उनका रवैया तानाशाही वाला है जिससे परेशान होकर एनेस्थिसिया डिपार्टमेंट के 3 और डॉक्टर इस्तीफा दे चुके हैं.

इसके साथ ही एनेस्थीसिया विभाग के कर्मचारी हड़ताल पर चले गए हैं.

प्रोफ़ेसर योग पर 2016 में घपले के आरोप लगे थे जिसके बाद इनसे रिकवरी भी हुई. विवाद में घिरने के बाद प्रोफ़ेसर योग हाईकोर्ट गईं और कहा कि इस मामले में उनका पक्ष नहीं सुना गया, इसलिए विभाग उनका पक्ष सुने.

इसके बाद हाईकोर्ट के कहने पर विभाग ने पक्ष भी सुना लेकिन सुनवाई के बाद क्या फैसला हुआ यह किसी को नहीं पता.

पर सवाल है कि जो डॉक्टर या अधिकारी विवादों में रहा हो उसे आखिर क्यों शासन ने दोबारा नियुक्ति दी? सवाल यह भी है कि जो मेडिकल कॉलेज इलाज के लिए खुले हैं वहां राजनीति क्यों हो? और एक सवाल यह भी है कि आखिर श्रीनगर मेडिकल कॉलेज में ऐसा क्या है कि 8 साल में 14 प्रिसिंपल इस्तीफा दे चुके हैं?

(दीपांकर भट्ट की रिपोर्ट)

 
News18 Hindi पर Bihar Board Result और Rajasthan Board Result की ताज़ा खबरे पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें .
IBN Khabar, IBN7 और ETV News अब है News18 Hindi. सबसे सटीक और सबसे तेज़ Hindi News अपडेट्स. Uttarakhand News in Hindi यहां देखें.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर