होम /न्यूज /उत्तराखंड /

देहरादून में रिलीज हुई 'सुबेरौ घाम', उमड़ रहे भारी दर्शक

देहरादून में रिलीज हुई 'सुबेरौ घाम', उमड़ रहे भारी दर्शक

देहरादून में पहली बार सुनहरे पर्दे पर गढ़वाली फिल्म 'सुबेरौ घाम' दिखाई जा रही है. चकराता रोड पर स्थित सिनेमाहाल में भारी संख्या में दर्शक फिल्म को देखने आ रहे हैं.

देहरादून में पहली बार सुनहरे पर्दे पर गढ़वाली फिल्म 'सुबेरौ घाम' दिखाई जा रही है. चकराता रोड पर स्थित सिनेमाहाल में भारी संख्या में दर्शक फिल्म को देखने आ रहे हैं.

देहरादून में पहली बार सुनहरे पर्दे पर गढ़वाली फिल्म 'सुबेरौ घाम' दिखाई जा रही है. चकराता रोड पर स्थित सिनेमाहाल में भारी संख्या में दर्शक फिल्म को देखने आ रहे हैं.

    देहरादून में पहली बार सुनहरे पर्दे पर गढ़वाली फिल्म 'सुबेरौ घाम' दिखाई जा रही है. चकराता रोड पर स्थित सिनेमाहाल में भारी संख्या में दर्शक फिल्म को देखने आ रहे हैं.

    इस फिल्म की कहानी उत्तराखण्ड राज्य की सबसे बड़ी समस्या पयालन और शराब के सेवन पर आधारित है. फिल्म के निदेशक और अभिनेत्री उर्मि नेगी का कहना है कि प्रदेश के पर्वतीय गांव धीरे खाली होत जा रहे हैं. गांवों के विरान होने के पीछे कई कारण जिम्मेदार हैं. गावों में रहने वाले युवा अब एक बुरी लत का शिकार हो रहे हैं वह है शराब.

    दर्शकों का कहना है कि घर जमाई जैसी फिल्म के दशकों के बाद ऐसी फिल्म को देखने का मौका मिला है. फिल्म डायरेक्टर का कहना है कि प्रदेश में फिल्म निर्माण की अपार संभवनाएं हैं लेकिन अभी फिल्म नीति ना होने के कारण कॉमर्शियल फिल्मों का निर्माण नहीं हो पा रहा है.

    उनका कहना है कि सरकार को तत्काल फिल्म इंडस्ट्री को विकसित करने के लिए ठोस कदम उठाना चाहिए, जिससे प्रदेश में जहां एक फिल्म इंडस्ट्री विकसित की जा सकें वही प्रदेश के कलाकारों को अपनी प्रतिभा को निखारने का मौका मिलेगा. साथ ही फिल्म के माध्यम से प्रदेश के कई कुप्रथाएं और बुराई को उजागर किया जायेगा.

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर