हल्द्वानी: आधी रात को गांव में घुंसा हाथियों का झुंड, डर के मारे घरों के अंदर कैद हुए लोग

हल्द्वानी के गांव में रात में अचानक हाथियों का एक झुंड घुस आया, जिसके बाद गांव में दहशत फैल गई. (प्रतीकात्मक फोटो)

हल्द्वानी के गांव में रात में अचानक हाथियों का एक झुंड घुस आया, जिसके बाद गांव में दहशत फैल गई. (प्रतीकात्मक फोटो)

हल्द्वानी (Haldwani) के गांवों में हाथियों (Elephants) का एक समूह एकदम से अंदर घुस आया है. हाथियों (Elephants) के इस समूह को देखकर लोग परेशान हैं. इनको भगाने के लिए लोग तरह-तरह का सहारा ले रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 3, 2021, 5:53 PM IST
  • Share this:

हल्द्वानी. हल्द्वानी (Haldwani) के आस-पास के गांवों में हाथियों (Elephants) का आतंक इन दिनों लगातार जारी है. कल रात में हाथियों का एक झुंड अचानक गावों में घुस आया, जिससे ग्रामीणों में खौफ है. जिससे फसलों (Crops) को तो नुकसान हो ही रहा है साथ ही इंसानों की जान को भी खतरा है. हाथियों से जान का खतरा देखते हुये लोग अपने- अपने घरों के अंदर कैद हो गये हैं. ताजा मामला बुधवार तड़के का है जब हल्द्वानी -मोटाहल्दू से सटे खड़कपुर (Kharakpur) गांव में कई हाथी पहुंच गये.

हाथियों का झुंड अपने करीब देख लोगों की नींद गायब हो गई. ग्रामीण लोगों के भगाने के बावजूद हाथी टस से मस नहीं हुए. आखिरकार रात भर ग्रामीण ताली और थाली के सहारे हाथियों को भगाते रहे. ग्रामीणों ने जान का खतरा देख फॉरेस्ट टीम को कॉल किया, जिसके बाद टीम मौके पर पहुंची और फॉरेस्ट टीम ने हवाई फायर की. इसके बाद हाथी खेतों की और भागते हुये जंगल की ओर चले गए. हाथियों का गांव में दाखिल होने का वीडियो सोशल मीडिया में खूब वायरल हो रहा है. जिसे ग्रामीणों ने अपने मोबाइल से रिकॉर्ड किया है.

सावधान! पासपोर्ट, शस्त्र लाइसेंस और नौकरी तलाश रहे हैं तो सोशल मीडिया पर न करें यह गलती, वरना हो सकती है मुश्किल

हाथियों कर रहे हैं फसल चौपट 
खड़कपुर गांव के ग्राम प्रधान शंकर जोशी के मुताबिक आए दिन हाथी खेतों का रुख करते हैं. कभी ये झुंड में होते हैं तो कभी अकेला टस्कर हाथी ग्रामीण इलाके में दिखता है. हाथी गन्ना जैसी फसल को खाता है. साथ ही गेहूं-धान या अन्य फसलों को अपने पांवों से रौंद डालता है, जिससे ग्रामीण किसानों की उपज भी प्रभावित होती है.

ग्रामीणों को है फेंसिंग का इंतजार 

हल्दूचौड़, मोटाहल्दू, रामपुर रोड और बिंदुखत्ता में रहने वाले ग्रामीणों की लंबे समय से मांग है कि जंगल से सटे इलाकों में सोलर फेंसिंग की जाए, जिससे हाथी गांव में दाखिल न हो सकें. तराई-पूर्वी डिविजन के डीएफओ संदीप कुमार के मुताबिक सोलर टेंटीकल फेंसिग के लिए प्रस्ताव शासन को भेजा गया है. कुछ बजट मिल भी चुका है. इसके जरिए कुछ इलाकों में सोलर फेंसिंग की जा रही है. डीएफओ कुमार के मुताबिक जब तक फेंसिंग नहीं होती तब तक ग्रामीणों को ज्यादा सतर्क रहना होगा. साथ ही हाथियों की मूवमेंट की सूचना मिलने पर तुरंत सूचित करना होगा. ताकि इंसानों के साथ लोगों को भी कोई नुकसान न हो.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज