टिहरीः बासी खाना और गंदगी देख क्वारंटाइन सेंटर से भागे बुजुर्ग को मनाने में पुलिस के छूटे पसीने
Tehri-Garhwal News in Hindi

टिहरीः बासी खाना और गंदगी देख क्वारंटाइन सेंटर से भागे बुजुर्ग को मनाने में पुलिस के छूटे पसीने
क्वारंटीन सेंटर से भागे बुजुर्ग को काफ़ी मुश्किल से मनाया जा सका.

टिहरी के क्वारंटाइन सेंटर से भागे बच्चन सिंह चौहान ने आरोप लगाया कि खाने-पीने और साफ-सफाई की शिकायत पर कार्रवाई न होने के बाद उन्होंने यह कदम उठाया.

  • Share this:
टिहरी. कोरोना वायरस की रोकथाम को लेकर बनाए गए क्वारंटाइन सेंटर में खाने-पीने की खराब क्वालिटी और साफ-सफाई न होने पर एक बुजुर्ग सेंटर से भाग निकले. यह सूचना मिलते ही हड़कंप मच गया और आखिर पुलिस ने उन्हें बौराड़ी में रोक लिया. पुलिस उन्हें लौटने के लिए मनाती रही, लेकिन वे तैयार नहीं थे. इसको लेकर बाज़ार में अच्छा खासा ड्रामा हो गया और लोगों की भीड़ लग गई. कई घंटे की मान-मनौवल के बाद आखिर बुजुर्ग को वापस क्वारंटाइन सेंटर ले जाया गया. लेकिन इससे पहले क्वारंटाइन सेंटर बने होटल के मालिक ने उनसे वादा किया कि उनकी शिकायतें दूर की जाएंगी.

खुद कर लो सफाई, चुपचाप खा लो बासी खाना 

नई टिहरी ज़िला मुख्यालय के पास के गांव बुडोगी के 80 वर्षीय बच्चन सिंह चौहान एक सप्ताह पहले खांसी की शिकायत होने पर ज़िला अस्पताल बौराड़ी पहुंचे थे. उन्होंने बताया कि उनके गांव में सप्ताह भर पहले कई प्रवासी आए थे. डॉक्टरों ने उन्हें दवाई दी और 14 दिन क्वारंटाइन सेंटर में रहने को कहा. प्रशासन ने उन्हें क्वारंटाइन सेंटर बनाए गए बौराड़ी के एक होटल में रुकवा दिया.



बच्चन सिंह चौहान का कहना है कि सेंटर में उन्हें बासी खाना दिया जा रहा है और साफ-सफ़ाई की भी व्यवस्था नहीं है. बाथरूम बहुत ही गंदे हैं, इस्तेमाल के लायक नहीं. उन्होंने होटल मालिक को इसकी शिकायत की तो उसने कहा कि बाथरूम खुद ही साफ कर लो. खाने के बारे में होटल मालिक ने कहा कि तुम हमारे मेहमान नहीं हो, जैसा खाना मिलता है खा लो चुपचाप.
किसी ने नहीं सुनी शिकायत 

बच्चन सिंह चौहान का कहना है कि उन्होंने खाने-पीने और साफ़-सफ़ाई न होने की शिकायत प्रशासन से भी की, लेकिन कुछ नहीं हुआ. उन्होंने प्रशासन से होम क्वारंटाइन में रखने की अनुमति मांगी, वह भी नहीं मिला. परेशान होकर वे आज सुबह सामान लेकर निकल पड़े. होटल मालिक ने रोकने की कोशिश की लेकिन वह नहीं माने. तब पुलिस को सूचना दी गई, जिसके बाद उन्हें बौराड़ी नई टिहरी मोटर मार्ग पर रोका गया.

मुश्किल से मनाया 

बौराड़ी बाजार में बुजुर्ग और पुलिस के बीच घंटों बहस चली. पुलिस मान-मनौव्वल करती रही, लेकिन बुजुर्ग नहीं मान रहे थे. मामले की जानकारी के बाद मौके पर पुलिस के बड़े अधिकारी और तहसीलदार भी पहुंचे. करीब दो घंटे चले इस ड्रामे के बाद आखिरकार बच्चन सिंह चौहान दोबारा क्वारंटाइन सेंटर जाने को तैयार हुए. वहां होटल मालिक को उन्हें अच्छा खाना देने और साफ-सफाई दुरुस्त रखने का निर्देश दिया गया. स्वास्थ्य विभाग की टीम ने बच्चन सिंह का चेकअप कर उन्हें क्वारंटाइन पीरियड पूरा करने के निर्देश दिए हैं.

यह भी देखें: 

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading