Corona Warriors: 7 माह की प्रेग्नेंट नर्स मोनिका को Salute जो अभी भी डटी हैं मरीजों की सेवा में
Tehri-Garhwal News in Hindi

Corona Warriors: 7 माह की प्रेग्नेंट नर्स मोनिका को Salute जो अभी भी डटी हैं मरीजों की सेवा में
लोगों की सेवा में रात-दिन जुटे हैं मेडिकल वर्कर

मोनिका का कहना है कि कोरोना संक्रमण (Pandemic coronavirus) के काल में मेडिकल कर्मचारियों की जिम्मेदारी सबसे अधिक है इसलिए उन्होंने निर्णय लिया कि वो अपनी ड्यूटी करेंगी और मरीजों की सेवा करेंगी.

  • Share this:
टिहरी. वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (Pandemic Coronavirus) से जंग में डॉक्टर और मेडिकल स्टॉफ फ्रंट लाइन में कोरोना वारियर्स (Corona Warriors) के तौर पर लड़ रहा है. ऐसे में कुछ लोग ऐसे भी हैं, जो दूसरों के लिए मिसाल कायम कर रहे है. ऐसी ही कहानी है टिहरी जिला अस्पताल बौराड़ी में बतौर नर्सिंग स्टाफ कार्यरत युवा दंपति की. 7 माह की प्रेग्नेंट (7 month pregnant) पत्नी पूरी शिद्दत से अपनी ड्यूटी निभा रही हैं और पति भी हॉस्पिटल में अपनी ड्यूटी दे रहे हैं.

लोगों की सेवा का रास्ता चुना
जिला अस्पताल के गायनी विभाग में कार्यरत मोनिका तिवारी और इमरजेंसी विभाग में कार्यरत उनके पति हरीश तिवारी जौलीग्रांट के रहने वाले हैं. ये दोनों जिला अस्पताल बौराड़ी में तैनात हैं. दोनों पति-पत्नी लॉकडाउन (Lockdown) के बाद से लगातार अपनी सेवाएं मरीजों को दे रहे हैं. वहीं मोनिका तिवारी इस समय 7 माह की प्रेग्नेंट हैं, वे चाहें तो सरकार की गाइडलाइन के मुताबिक घर पर रहकर आराम कर सकती थीं, लेकिन इस संकट के समय में उन्होंने लोगों की सेवा का रास्ता चुना. दरअसल सरकार की गाइडलाइन के मुताबिक, बुजुर्ग, क्रोनिक डिसीज (Chronic disease) से ग्रसित व्यक्ति और प्रेग्नेंट महिलाओं को घर पर ही रहने व रेस्ट करने के लिए कहा गया है. कोई भी विभाग ऐसी दशा में अपने कर्मचारियों को काम करने के लिए बाध्य नहीं कर सकता.

लेकिन मोनिका और उनके पति हरीश ने लोगों की सेवा के रास्ते को चुना. 7 माह की प्रेग्नेंट मोनिका लगातार ड्यूटी कर रही हैं. जिसमें उनके पति उनका पूरा सपोर्ट कर रहे हैं. जिला अस्पताल प्रबंधन द्वारा भी मोनिका को घर में रेस्ट के लिए कहा गया, लेकिन उन्होंने मरीजों की सेवा को अपना कर्तव्य मानते हुए अभी छुट्टी लेने से इनकार कर दिया. मोनिका का मानना है कि कोरोना संक्रमण के काल में मेडिकल कर्मचारियों की जिम्मेदारी सबसे अधिक है, इसलिए उन्होंने निर्णय लिया कि वो अपनी ड्यूटी करेंगे और मरीजों की सेवा करेंगी.
coronavirus
मोनिका के पति हरीश भी इमरजेंसी में ड्यूटी कर रहे हैं




News 18 से बातचीत में मोनिका ने कहा कि इसके लिए उनके पति द्वारा भी उन्हें प्रेरित किया गया और कहा जब उन्हें लगे कि अब उनसे ड्यूटी नहीं हो पा रही है, तो वे लीव लेकर घर आ जाएं लेकिन तब तक अपना फर्ज निभाएं. मोनिका के पति हरीश तिवारी का कहना है कि उनके माता-पिता ने उनके इस फैसले का शुरू में विरोध किया था और कहा था कि होने वाले बच्चे और उनकी सेहत के लिए वो छुट्टी लेकर घर आ जाएं. लेकिन हमने कोरोना संक्रमण के इस कठिन दौर में पहले अपनी जिम्मेदारियों को प्राथमिकता देने का फैसला किया. वहीं जिला अस्पताल प्रबंधन के एचआर पुनीत गुप्ता का कहना है कि हमने मोनिका से बात की थी और कहा है कि जब भी उन्हें लीव लेनी हो वे बता दें उनकी लीव स्वीकृत कर दी जाएगी.

ये भी पढ़ें- हज़ारों कोरोना वायरस संक्रमित हो सकते हैं उत्तराखंड लौट रहे प्रवासियों में से, सरकार है तैयारः मुख्यमंत्री
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading