दलित युवक की मौतः कोट गांव से तीन आरोपी हिरासत में, चार की तलाश जारी
Tehri-Garhwal News in Hindi

दलित युवक की मौतः कोट गांव से तीन आरोपी हिरासत में, चार की तलाश जारी
उत्तराखंड में शादी समारोह में पिटाई के हफ़्ते भर बाद देहरादून में इलाज के दौरान रविवार को दलित युवक की मौत हो गई थी.

स्थानीय लोगों का का कहना था कि 29 अप्रैल को रिपोर्ट दर्ज किए जाने के बाद भी पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की.

  • Share this:
मसूरी में साथ खाने को लेकर दलित युवक की मौत के मामले में पुलिस ने तीन आरोपियों को हिरासत में लिया है और चार अन्य की तलाश की जा रही है. सुबह ही धनौल्टी से पुलिस टीम श्रीकोट पहुंच गई थी और आरोपियों की धरपकड़ के लिए छापेमारी की जा रही थी.

बता दें कि 26 अप्रैल को जौनपुर के कोट गांव में एक शादी समारोह में सवर्णों के साथ खाना खाने को लेकर दलित युवक का विवाद हुआ था. आरोप है कि क्षेत्र के कुछ दबंगों ने दलित युवक जितेंद्र दास की पिटाई कर दी थी] जिससे उसकी हालत खराब हो गई थी. परिजन उसका इलाज कराने के लिए देहरादून ले गए. सप्ताह भर इलाज किए जाने के बाद भी उसे बचाया नहीं जा सका. रविवार सुबह उसकी मौत हो गई थी.

इस घटना में 7 लोगों के खिलाफ कैम्पटी थाने में नामजद रिपोर्ट दर्ज की गई थी. स्थानीय लोगों का कहना था कि 29 अप्रैल को रिपोर्ट दर्ज किए जाने के बाद भी पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की. दलित युवक की मौत के बाद अब पुलिस हरकत में आई है.



उधर] इस मामले में दलितों के बीच आक्रोश बढ़ रहा है. टिहरी में दलित समुदाय के लोगों ने आक्रोश जताते हुए दबंगों के ख़िलाफ़ कड़ी कार्रवाई की मांग की और चेतावनी दी कि ऐसा नहीं हुआ तो सड़कों पर उतरेगा दलित समुदाय.



(सौरभ सिंह के साथ सुनील सिलवाल की रिपोर्ट)

उत्तराखंड: 22 सीटों पर निर्णायक भूमिका में हैं दलित-मुस्लिम


दलित उत्पीड़न के खिलाफ हरिद्वार में हरीश रावत ने रखा उपवास

Facebook पर उत्‍तराखंड के अपडेट पाने के लिए कृपया हमारा पेज Uttarakhand लाइक करें.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading