लाइव टीवी

टिहरी में पास के लिए परेशान लोगों का आरोप... जिनकी 'सेटिंग' है उन्हीं के बन रहे हैं पास
Tehri-Garhwal News in Hindi

Saurabh Singh Tehri | News18 Uttarakhand
Updated: May 22, 2020, 6:35 PM IST
टिहरी में पास के लिए परेशान लोगों का आरोप... जिनकी 'सेटिंग' है उन्हीं के बन रहे हैं पास
लोग पास के लिए आवेदन कर सुबह से एसडीएम ऑफिस के बाहर इंतज़़ार करने लगते हैं लेकिन ज़्यादातर लोगों को निराश ही लौटना पड़ रहा है.

आरोप है कि एक टैक्सी चालक दिल्ली और राजस्थान लगातार बुकिंग पर जा रहा है और लौटने पर क्वारंटीन भी नहीं हो रहा

  • Share this:
टिहरी. उत्तराखंड का सिस्टम भी अजीब है... यूपी का एक विधायक सख़्त लॉकडाउन के बीच 3 गाड़ियां भरकर देहरादून आता है और अफ़सर सारे नियम ताक पर रखकर उसे काफ़िले समेत बदरीनाथ-केदारनाथ जाने का पास जारी कर देते हैं. लेकिन उत्तराखंड के अंदर ही एक शहर से दूसरे शहर जाने के लिए आम आदमी को जूते घिसने पड़ रहे हैं. टिहरी में लोग पास जारी करने के सिस्टम से परेशान हैं और समझ नहीं पा रहे कि क्या करें. दूसरी तरफ़ कुछ लोगों को हर दूसरे दिन पास मिल जा रहा है और वह आराम से घूम रहे हैं. इससे कोरोना फैलने का ख़तरा भी बना हुआ है.

दिल्ली-राजस्थान के चक्कर लगा रहा टैक्सी ड्राइवर 

नई टिहरी ज़िला मुख्यालय में पास बनाने के लिए लोग सुबह से एसडीएम ऑफिस के बाहर खड़े हो जाते हैं और आवेदन करते हैं लेकिन ज़्यादातर लोगों को निराश ही लौटना पड़ रहा है. कुछ लोग ऑनलाइन आवेदन कर रहे हैं लेकिन इंटरनेट की दिक्कत या अन्य कारणों से यह भी काम नहीं कर रहा.



दूसरी और कुछ लोगों को आए दिन पास मिल रहे हैं और वे देहरादून, दिल्ली, यूपी और राजस्थान तक जा रहे हैं. स्थानीय निवासी भूपेंद्र सिंह रावत का कहना है कि वे अपने रिश्तेदार को छोड़ने के लिए देहरादून जाना चाहते हैं लेकिन ऑनलाइन पास बार-बार रिजेक्ट हो रहा है. एसडीएम ऑफिस में आवेदन करने पर तीन दिन बाद भी पास नहीं बन पाया है. वहीं एक टैक्सी ड्राइवर है जो लगातार अपनी सेटिंग के बूते .



भूपेंद्र कहते हैं कि नई टिहरी जिला मुख्यालय के कुट्ठा गांव का एक टैक्सी चालक दिल्ली और राजस्थान लगातार बुकिंग पर जा रहा है और वापस लौटने पर क्वारन्टीन भी नहीं हो रहा है. इसकी वजह से आस-पास रहने वाले लोगों में दहशत का माहौल है.

जांच की जाएगी 

इस पूरे मामले में प्रशासन की कार्यप्रणाली पर भी सवाल उठ रहे हैं तो न्यूज़ 18 ने एसडीएम सदर के सामने यह सवाल रखे. एसडीएम सदर फींचाराम चौहान ने कहा कि ज़रूरी होने पर ही लोगों के पास बनाए जा रहे है और एक ही दिन का पास दिया जा रहा है. अगर कोई दो या उससे अधिक दिन का पास बनाता है तो उसे वापस लौटने पर क्वारन्टीन किया जा रहा है.

कुठ्ठा गांव के टैक्सी चालक के मामले से उन्होंने अनभिज्ञता जताई और कहा कि अगर कोई लगातार पास बनवाकर दिल्ली और राजस्थान जा रहा है तो इस मामले का संज्ञान लिया जाएगा और जांच की जाएगी.

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए टिहरी गढ़वाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 22, 2020, 6:35 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading