टिहरी सीट पर दो राजनीतिक घरानों की प्रतिष्ठा दांव पर, माला राज्यलक्ष्मी व प्रीतम सिंह के बीच मुकाबला

टिहरी सीट के लिए बीजेपी की माला राज्यलक्ष्मी और कांग्रेस के प्रीतम सिंह के बीच मुकाबला.
टिहरी सीट के लिए बीजेपी की माला राज्यलक्ष्मी और कांग्रेस के प्रीतम सिंह के बीच मुकाबला.

टिहरी लोकसभा सीट पर इस बार दो राजनीतिक घरानों की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है. बीजेपी से राजपरिवार की बहू माला राज्यलक्ष्मी शाह को अपनी पारम्परिक सीट बचाने की चुनौती है. वहीं कांग्रेस से जौनसार बावर के निर्विवाद नेता गुलाब सिंह के पुत्र वर्तमान पीसीसी चीफ प्रीतम सिंह मैदान में हैं.

  • Share this:
टिहरी लोकसभा सीट पर इस बार दो राजनीतिक घरानों की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है. बीजेपी से राजपरिवार की बहू माला राज्यलक्ष्मी शाह को अपनी पारम्परिक सीट बचाने की चुनौती है. वहीं कांग्रेस से जौनसार बावर के निर्विवाद नेता गुलाब सिंह के पुत्र वर्तमान पीसीसी चीफ प्रीतम सिंह मैदान में हैं. ऐसे में दो दिग्गज राजनीतिक घरानों के बीच रोमाचंक मुकाबला होने वाला है. बता दें कि टिहरी लोकसभा सीट पर राजपरिवार का ही दबदबा रहा है. वर्ष 1952 से टिहरी लोकसभा सीट पर 18 बार आम चुनाव और उपचुनाव हुए हैं. इसमें से 11 बार राजपरिवार पर ही जनता ने अपना विश्वास जताया है. हर बार यह बात गौण हो गई कि राजपरिवार के सदस्य बीजेपी से या फिर कांग्रेस से चुनाव लड़ रहे हैं. हर अवसर पर जीत उनकी ही होती रही.

टिहरी लोकसभा क्षेत्र टिहरी, उत्तरकाशी और देहरादून की 14 विधानसभाओं से मिलकर बना है. ऐसे में धार्मिक और ऐतिहासिकता को लेकर भी इस सीट का अपना महत्व है. इस बार होने वाले चुनाव में दो दिग्गज राजनीतिक परिवारों के बीच मुकाबला होने जा रहा है. इस वजह से इस सीट का महत्व और बढ़ गया है.

इस बारे में वरिष्ठ पत्रकार विक्रम सिंह बिष्ट कहते हैं कि यह वास्तव में रोमांचक चुनाव है. वहीं वरिष्ठ समाजसेवी जयप्रकाश पांडे का कहना है कि इन दो परिवारों में जो टक्कर हो रही है उसका व्यापक असर पड़ेगा. ऐसे में माला राज्यलक्ष्मी शाह को जहां अपना वोट बैंक बचाए रखने तो प्रीतम सिंह को अपना वोट बैंक बढ़ाने की चुनौती है. देखने वाली बात होगी कि इन दोनों राजनीतिक घरानों में से टिहरी लोकसभा क्षेत्र की जनता किसे टिहरी का ताज पहनाती है.



ये भी देखें - VIDEO : टम्टा vs टम्टा, अल्मोड़ा से बीजेपी व कांग्रेस के प्रत्याशियों ने किया नामांकन
ये भी पढें  - जब कांग्रेस कार्यकर्ता मनीष खंडू़ड़ी की मौजूदगी में ही आपस में भिड़ गए

Facebook पर उत्‍तराखंड के अपडेट पाने के लिए कृपया हमारा पेज Uttarakhand लाइक करें.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज