टिहरी: जंगली जानवरों के आतंक से परेशान किसान खेती छोड़ने को हुए मजबूर

आवारा पशु किसानों की खेती को कर रहे चौपट

टिहरी (Tehri) में जंगली सूअर, बंदरों और आवारा गायों द्वारा खेती को पहुंचाए जा रहे नुकसान के चलते किसान गांव छोड़ने को मजबूर हो गए हैं.

  • Share this:
टिहरी गढ़वाल. उत्तराखंड (Uttarakhand) के टिहरी गढ़वाल (Tehri Garhwal) जिले में जंगली जानवरों के आतंक से परेशान किसान अब खेती छोड़ने को मजबूर हो गए हैं. किसानों के खेती छोड़कर जाने से गांव खाली होते जा रहे हैं. मालूम हो कि चंबा और थौलधार क्षेत्र गेहूं, धान, प्याज, आलू समेत दालों की खेती के लिए काफी मशहूर है, लेकिन जंगली सूअर, बंदरों और आवारा गायों द्वारा खेती को पहुंचाए जा रहे नुकसान के चलते किसान परेशान हो गए हैं.

इन गांवों से 50 से 60 परिवार कर चुके हैं पलायन

इन आवारा पशुओं द्वारा लगातर किसानों की खेतों में लगे फसलों को नुकसान पहुंचाया जा रहा है. संंबंधित अधिकारियों से शिकायत करने के बाद भी कोई उनकी सुध तक लेने वाला नहीं है. तिवाड़ गांव, ग्वाड़, उप्पू, डांगचौरा, जाख, जसपुर आदी गांवों से तो करीब 50 से 60 परिवार अपनी खेती छोड़कर पलायन कर चुके हैं.

जब सरकार ध्यान ही नहीं दे रही तो खेती करने का क्या फायदा: किसान

पीड़ित किसानों का कहना है कि जब इतनी मेहनत के बाद खेती बर्बाद हो रही है और सरकार द्वारा इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है तो खेती करने और गांव में रहने का क्या फायदा है.

ये भी पढ़ें:- THDC विनिवेश को चुनौती, हाईकोर्ट ने मांगा UK,UP और केंद्र से 3 हफ़्ते में जवाब

ये भी पढ़ें:- दूसरों से टैक्स वसूलने वाला दून नगर निगम खुद ही सालों से कर रहा था टैक्स चोरी

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.