vidhan sabha election 2017

छेड़छाड़ की, पीटा, पीड़ित महिला की परिवार सहित आत्मदाह की चेतावनी

Shalendra Rawat | News18India
Updated: October 13, 2017, 6:42 PM IST
छेड़छाड़ की, पीटा, पीड़ित महिला की परिवार सहित आत्मदाह की चेतावनी
Shalendra Rawat | News18India
Updated: October 13, 2017, 6:42 PM IST
टिहरी के नरेन्द्रनगर में छेड़छाड़ की शिकायत करने पर एक महिला को दबंग ग्राम प्रधान की बीवी ने बुरी तरह पीटा. पुलिस से भी न्याय नहीं मिला तो अब पीड़ित परिवार ने सामूहिक आत्मदाह करने की चेतावनी दी है.

नरेंद्रनगर के आगराखाल के ग्राम भींगर की चिलोगी में रहने वाली एक महिला को ग्राम प्रधान की पत्नी और दो अन्य महिलाओं ने बुरी तरह पीटकर लहुलूहान कर दिया और फिर उसे जंगल में अधमरा छोड़ दिया.

पीड़िता का आरोप है कि उसने ग्राम प्रधान की अश्लील बातें करने की शिकायत उसकी पत्नी से कर दी थी.  पीड़िता का कहना है कि पानी लेने जाते समय ग्राम प्रधान ने पीड़िता से अश्लील बातें की और सलवार सूट देने के बदले अपने साथ रहने की पेशकश की थी.

यही बात पीड़िता ने अपने पति से कही तो उसने दो अन्य महिलाओं के साथ मिलकर कथित रूप से पीड़िता की आंखों में मिर्च डाल दीं और दराती से हमला भी किया. बुरी तरह पीटकर से अधमरी हालत में पीड़िता को जंगल में छोड़ दिया.

हमले में महिला के दांत टूट गए और पूरे शरीर में जख़्म हो गए. घायल महिला बीते 7 दिन से सामुदायिक चिकित्सालय नरेन्द्रनगर में भर्ती है. उसके पति ने 6 अक्टूबर को ही नरेन्द्रनगर पुलिस में शिकायत की थ जिसके प्रधान पक्ष ने भी पीड़ित महिला और उसके पति के खिलाफ़ शिकायत दर्ज करवा दी.

एफ़आईआर होने के 7 दिन बाद भी पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की है जिससे नाराज़ पीड़ित परिवार ने बच्चों सहित सामुदायिक अस्पताल में ही सामूहिक आत्मदाह की चेतावनी दी है. ग्राम प्रधान पक्ष की दहशत के मारे अब पीड़ित महिला और उसका पति बच्चों सहित गांव जाने से कतरा रहे हैं.

पीड़ित परिवार का कहना है कि उन्होंने अपनी भैंस भी बेच दी है और बच्चों का स्कूल भी छुड़वा दिया है. वह अब गांव से बाहर ही रह रहे हैं.

इस मामले में थानाध्यक्ष नरेन्द्रनगर का कहना है कि पीड़ित परिवार झगड़ालू प्रवृति का है, जिनके झगड़े के कई मामले पहले भी थाने में आ चुके हैं. थानाध्यक्ष ने यह भी कहा कि महिला के साथ ज्यादा मारपीट नहीं हुई है, पीड़ित परिवार ड्रामा कर रहा है.

वहीं पीड़ित महिला का इलाज कर रही डॉक्टर का कहना है कि महिला पर गम्भीर चोट के निशान हैं.

 
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर