होम /न्यूज /उत्तराखंड /Dehradun: 60 हजार रुपये वसूलने के लिए क्लासमेट्स ने छात्र को कपड़े उतार कर पीटा, वीडियो बनाकर किया ब्लैकमेल

Dehradun: 60 हजार रुपये वसूलने के लिए क्लासमेट्स ने छात्र को कपड़े उतार कर पीटा, वीडियो बनाकर किया ब्लैकमेल

विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार ने कहा कि वह आरोपी छात्रों के खिलाफ सख्त अनुशासनात्मक कार्रवाई करेंगे. (File Photo)

विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार ने कहा कि वह आरोपी छात्रों के खिलाफ सख्त अनुशासनात्मक कार्रवाई करेंगे. (File Photo)

Ragging in Dehradun's University: छात्र ने बताया कि सीनियर और साथी छात्रों ने उसे कुछ मिलकर पिला दिया था जिससे वह अपना ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

पेट्रोलियम एंड एनर्जी स्टडीज में पढ़ने वाले बीबीए प्रथम वर्ष के छात्र के साथ हुई घटना
साथ पढ़ने वाले छात्रों ने 60 हजार रुपये के लिए इस घिनौनी हरकत को अंजाम दिया
विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार ने कहा कि वह छात्रों के खिलाफ सख्त अनुशासनात्मक कार्रवाई करेंगे

देहरादून. देहरादून के एक विश्वविद्यालय में 60 हजार रुपयों के लिए एक छात्र को निर्वस्त्र कर मारपीट करने का मामला सामने आया है. जानकारी के अनुसार पेट्रोलियम एंड एनर्जी स्टडीज (UPES) में पढ़ने वाले बीबीए प्रथम वर्ष के छात्र को कथित तौर पर तीन लोगों ने शराब पिलायी, मारपीट की और निर्वस्त्र कर दिया. आरोपी छात्र के ही सहपाठी बताये जा रहे हैं जिन्होंने 60 हजार रुपये के लिए इस हरकत को अंजाम दिया. मारपीट के अलावा आरोपी छात्रों ने घटना का वीडियो बना लिया और पीड़ित छात्र को 60,000 रुपये के लिए ब्लैकमेल किया. जिसके बाद 19 वर्षीय छात्र ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई.

वहीं पुलिस ने बताया कि चारों विश्वविद्यालय परिसर के बाहर एक ही निजी छात्रावास में रहते हैं और एक साथ पार्टी कर रहे थे जहां आपस में उनकी झड़प हो गई. छात्र की शिकायत पर प्रेम नगर थाना पुलिस ने बुधवार को तीनों के खिलाफ आईपीसी की धारा 323 (स्वेच्छा से चोट पहुंचाना) और 384 (जबरन वसूली) के तहत FIR दर्ज कर ली है. हालांकि पुलिस के दावे के उलट छात्र ने दावा किया है कि घटना 27 नवंबर की रात 2.30 बजे की है जब वह अपने हॉस्टल में पढ़ रहा था. छात्र ने बताया कि उसके तीन सहपाठी और सीनियर्स कमरे में शराब लेकर आये थे.

शराब पीकर हुआ बेहोश
छात्र ने बताया कि सीनियर और साथी छात्रों ने उसे कुछ मिलाकर पिला दिया था जिससे वह अपना होश खो बैठा. इसके बाद छात्र के साथ मारपीट की गई, उसे कपड़े उतारने और फिल्म बनाने के लिए मजबूर किया गया. इस बीच, यूपीईएस के अधिकारियों ने इनकार किया कि यह “रैगिंग” का मामला था. वहीं विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार मनीष मदान ने कहा कि वह दोषियों के खिलाफ सख्त अनुशासनात्मक कार्रवाई करेंगे.

Tags: Dehradun news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें