'केदारनाथ' पर अजय भट्ट ने कहा: संस्कृति पर वार करती फिल्म पर रोक लगनी चाहिए

सनातन धर्म के लोग विश्व भर में फैले हुए हैं. केदारनाथ धाम आने, यहां ईश्वर का दर्शन करने मात्र से मोक्ष की प्राप्ति होती है. 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक केदारनाथ में है. इस धाम के बारे में कोई भी शख्स न गलत कह सकता है और न ही इसे फिल्म के माध्यम से दिखाया जा सकता है.

shailender bhandari | News18 Uttarakhand
Updated: December 7, 2018, 3:45 PM IST
'केदारनाथ' पर अजय भट्ट ने कहा: संस्कृति पर वार करती फिल्म पर रोक लगनी चाहिए
अजय भट्ट , प्रदेश अध्यक्ष , भाजपा
shailender bhandari | News18 Uttarakhand
Updated: December 7, 2018, 3:45 PM IST
खटीमा पहुंचे भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने फिल्म 'केदारनाथ' मामले पर बयान देते हुए कहा कि अगर केदारनाथ फिल्म में केदारनाथ धाम के बारे में गलत तरीके से चलचित्र किया गया है तो इस फिल्म पर जरूर रोक लगनी चाहिए. उन्होंने कहा कि उत्तराखंड के चार धामों में केदारनाथ एक धाम है. यह धाम सनातन धर्म के लोगों के आस्था का केंद्र है.

उन्होंने कहा कि सनातन धर्म के लोग विश्व भर में फैले हुए हैं. केदारनाथ धाम आने, यहां ईश्वर का दर्शन करने मात्र से मोक्ष की प्राप्ति होती है. 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक केदारनाथ में है. इस धाम के बारे में कोई भी शख्स न गलत कह सकता है और न ही इसे फिल्म के माध्यम से दिखाया जा सकता है.

प्रदेश अध्यक्ष ने साथ में यह भी कहा कि कुछ फिल्म निर्माताओं द्वारा चंद पैसों के लिए इस मूवी को बनाया गया है. उन्होंने इसे बिल्कुल गलत बताया. अजय भट्ट ने कहा कि किसी भी फिल्म में अगर किसी संस्कृति पर वार किया जा रहा है, उस संस्कृति को तहस नहस किया जा रहा है तो उस मूवी पर रोक लगनी ही चाहिए. हमारी सरकार ने इस फिल्म पर जो निर्णय लिया है वह सही है. हम सभी उसका समर्थन करते हैं. हम देवभूमि में ऐसा कुछ गलत नहीं होने देंगे.

यह भी पढ़ें - सतपाल महाराज को ‘केदारनाथ’ फ़िल्म के नाम पर आपत्ति, यह नाम रखने की दी सलाह

यह भी पढ़ें - मसूरी में एक सिविल अस्पताल भी नहीं, गंभीर मरीजों को कर दिया जाता है रेफर

Facebook पर उत्‍तराखंड के अपडेट पाने के लिए कृपया हमारा पेज Uttarakhand लाइक करें.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर