Home /News /uttarakhand /

चाइना बॉर्डर तक साल भर में कैसे पहुंचेगी सड़क? जानिए 5000 करोड़ के प्रोजेक्ट की खास बातें

चाइना बॉर्डर तक साल भर में कैसे पहुंचेगी सड़क? जानिए 5000 करोड़ के प्रोजेक्ट की खास बातें

उत्तराखंड में सड़कों का निर्माण ज़ोरों पर है.

उत्तराखंड में सड़कों का निर्माण ज़ोरों पर है.

Uttarakhand Election 2022 : मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी (Pushkar Singh Dhami) के गृहक्षेत्र खटीमा में थारु राजकीय इंटर कॉलेज के मैदान में हुई चुनावी सभा (BJP Public Meeting) में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने उत्तराखंड में पहाड़ से मैदान तक सड़कों के निर्माण (Road Construction) का खाका पेश किया. टनकपुर से लिपुलेख तक जो रास्ता (Tanakpur-Lipulekh Road) बन रहा है, वह 5000 करोड़ रुपये का प्रोजेक्ट है. 200 किलोमीटर से ज़्यादा के हिस्से का ज़िम्मा BRO ने लिया है और यह काम भी एक साल में पूरा होगा. जानिए उत्तराखंड में कितने रोड प्रोजेक्ट्स (Road Projects in Uttarakhand) सरपट दौड़ रहे हैं.

अधिक पढ़ें ...

    खटीमा. उत्तराखंड में बिछाए जा रहे सड़कों के जाल को लेकर बड़ा अपडेट यह है कि चीन सीमा पर स्थित लिपुलेख तक सड़क साल भर के भीतर पहुंचने वाली है. भारत सरकार इस प्रोजेक्ट को तेज़ी से पूरा करने के लिए कमर कस चुकी है. 125 किलोमीटर मार्ग का काम पूरा हो चुका है और टनकपुर से लिपुलेख मार्ग को बाकी आधे से ज़्यादा काम एक साल के भीतर पूरा होगा. यह दावा खटीमा में केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने तब किया, जब वह उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के गृहनगर में एक चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे.

    गडकरी ने सड़कों के निर्माण को उत्तराखंड के विकास की रूपरेखा बताते हुए कहा कि टनकपुर से लिपुलेख मार्ग का प्रोजेक्ट करीब 5000 करोड़ रुपये का है, जिसके तहत टनकपुर से पिथौरागढ़ तक का काम हो चुका है और 160 किलोमीटर से ज़्यादा का काम शेष है. यही नहीं, गडकरी ने अगले दो सालों के भीतर उत्तराखंड में दो लाख करोड़ की लागत से 2500 किमी सड़कों का निर्माण हो जाने की बात भी कही. कुमाऊं मंडल में भाजपा की विजय संकल्प यात्रा के समापन पर जनसभा के दौरान उन्होंने कई मार्गों के बारे में ब्योरा घोषणाओं के रूप में पेश किया.

    गडकरी ने किए बड़े ऐलान
    – 2300 करोड़ से हल्द्वानी-लालकुआं बाईपास निर्माण किया जाएगा.
    – सिमली-मुन्स्यारी-जौलजीवी-ग्वालदम तक सड़क का चौड़ीकरण होगा. इसे भारत माला परियोजना में शामिल किया जाएगा.
    – खटीमा में रिंग रोड निर्माण के लिए चकरपुर, कालापुल, होते हुए टेढ़ाघाट वाया पहेनिया को भारत माला परियोजना में जोड़ा जाएगा. खटीमा-पूरनपुर मार्ग एनएच में शामिल होगा.
    – नजीमाबाद से अफजलगढ़ तक ग्रीनफील्ड न्यू बाइपास बनेगा.
    – हल्द्वानी से कर्णप्रयाग तक 250 किलोमीटर की आलवेदर रोड बनेगी.
    – 2024 तक दो लाख करोड़ से 2500 किलोमीटर का काम पूरा करने का लक्ष्य.

    देवभूमि में डबल इंजन की सरकार की उपलब्धियों को गिनाते हुए गडकरी ने कहा कि भाजपा सत्ता में न होती तो उत्तराखंड का​ विकास नहीं हो पाता. नए एक्सप्रेस वे का ज़िक्र करते हुए गडकरी ने यह भी कहा कि जल्द ही दिल्ली से देहरादून और दिल्ली से हरिद्वार का सफर 2 घंटे, दिल्ली से अमृतसर का सफर 4 घंटे, और दिल्ली से कटरा का सफर 6 घंटे का ही रह जाएगा.

    Tags: Assembly elections, Nitin gadkari, Uttarakhand Assembly Election

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर