Home /News /uttarakhand /

दहेज में नहीं मिले 50 लाख और स्कॉर्पियो तो अंतरराष्ट्रीय बॉक्सर को ससुराल में किया प्रताड़ित, पति सहित 3 पर केस

दहेज में नहीं मिले 50 लाख और स्कॉर्पियो तो अंतरराष्ट्रीय बॉक्सर को ससुराल में किया प्रताड़ित, पति सहित 3 पर केस

बॉक्सर प्रियंका चौधरी के परिजन के साथ भी अभद्र व्यवहार किया गया. (फाइल फोटो)

बॉक्सर प्रियंका चौधरी के परिजन के साथ भी अभद्र व्यवहार किया गया. (फाइल फोटो)

Rudrapur : काशीपुर (Kashipur) के मोहल्ला आर्यनगर निवासी अंतरराष्ट्रीय बॉक्सर प्रियंका चौधरी (Priyanka Chaudhry) ने अपने पति और सास ससुर के खिलाफ दहेज प्रताड़ना (Dowry Case) का अरोप लगाया है. प्रियंका के अनुसार 50 लाख रुपए और स्कॉर्पियो कार नहीं मिलने पर उसके साथ क्रूरता पूर्वक व्यवहार किया गया. इतना ही नहीं ससुरालियों ने घर पहुंचकर परिजनों से भी अभद्र व्यवहार किया.

अधिक पढ़ें ...

    चंदन बंगारी
    रुद्रपुर.
    काशीपुर के मोहल्ला आर्यनगर निवासी अंतरराष्ट्रीय बॉक्सर प्रियंका चौधरी ने अपने पति और सास ससुर के खिलाफ दहेज प्रताड़ना का अरोप लगाया है. प्रियंका के अनुसार 50 लाख रुपए और स्कॉर्पियो कार नहीं मिलने पर उसके साथ क्रूरता पूर्वक व्यवहार किया गया. इतना ही नहीं ससुरालियों ने घर पहुंचकर परिजनों से भी अभद्र व्यवहार किया. काशीपुर पुलिस ने तीन आरोपियों पर दहेज उत्पीड़न, मारपीट, गाली गलौच, जान से मारने की धमकी का मुकदमा दर्ज किया है. पति पर धारा 377 आईपीसी भी लगाई गई है.

    पहली ही रात पर की थी पिटाई
    पुलिस को दी शिकायत में प्रियंका ने बताया कि उनकी शादी डॉट कॉम के माध्यम से उसका रिश्ता ब्लॉक नं0 1 बाबा हरिदास एनक्लेव जड़ौदा कला नजफगढ़ नई दिल्ली निवासी हाईकोर्ट के अधिवक्ता संदीप लांबा के साथ तय हुआ था. ससुरालियों को शादी से पहले ही नौकरी, आदतों और खेल के बारे में बता दिया गया था. ससुरालवालों की रजामंदी पर 8 जून 2019 को काशीपुर में विवाह हुआ था. लेकिन शादी के कुछ दिनों बाद सास कमला, ससुर जगदीश प्रसाद लांबा और पति संदीप लांबा दहेज को लेकर ताना देने लगे. शादी की पहली ही रात में पति ने अप्राकृतिक संबंध बनाने की कोशिश की और विरोध करने पर मारपीट की. संदीप हर बार मायके जाकर 50 लाख रुपए और स्कॉर्पियो कार देने की मांग करता था. इस कारण माता-पिता अभ्रदता भी करता था.

    गुंडे हैं क्लाइन्ट, जान से मरवा दूंगा
    प्रियंका का आरोप है कि पति फेसबुक पर मेरे साथ में फोटो लगाकर फ्रेंड्स बनाता और बिना मेरी अनुमति के कुछ भी अपलोड कर देता. दोस्तों को उल्टे सीधे कमेंट करने लगता. मेरे मना करने पर कभी भी हाईपर होकर उनके साथ मारपीट, गाली-गलौज करने लगता. उसने सास, ससुर से शिकायत की तो उन्होंने नहीं सुनी. संदीप कभी भी स्टेडियम में आ धमकता था और हरसमेंट करता. गार्डों व दोस्तों के सामने भी बेइज्जती करता था. ससुराल वालों के व्यवहार से तंग आकर उसने ससुराल जाना बंद कर दिया था. जिस पर पति संदीप ने उसके दोस्तों को फोन पर हड़काया और उसके चरित्र पर सवाल उठाए. 10 जनवरी को पति मायके आया और प्रियंका की पिटाई की. साथ ही संदीप ने धमकी दी कि मेरे बहुत से गुंडे क्लाइंट हैं, जान से मरवा दूंगा और सबूत भी नहीं मिलेगा. मेरी वकालत देखी नहीं है. ऐसा चक्कर चला लूंगा कि तुम सब का जीना हराम कर दूंगा.

    शादी में की बदसलूकी, मोबाइल छीनकर भागा
    प्रियंका का कहना है कि जनवरी 2020 में रेलवे के बॉक्सिंग कैंप में विशाखापट्टनम में क्लोज थी. 4 फरवरी 2020 को दिल्ली अपनी साथी महिला बॉक्सर हिना टोकस की शादी में आई थी. इसी बीच पति वहां भी पंडाल में आ गया और मुझे गालियां देकर अपने साथ ले जाने लगा. उसके विरोध करने पर पति उसका कीमती मोबाइल लेकर भाग गया. जिसमें मेरे वापसी का टिकट व अन्य दस्तावेज सेव थे. अगले दिन में वह ससुराल गई तो सास और ससुर ने सुनवाई करने की बजाय उसे घर से भगा दिया. जिसके बाद उसने ऑनलाइन रिपोर्ट दिल्ली द्वारिका थाने में कर दी थी. कुछ दिन बाद वो ससुराल गई तो ससुराल वालों का व्यवहार उसके प्रति पूर्ववत रहा. उन्होंने कहा कि जब हमारी मांग पूरी नहीं करेगी तब तक हम यहां नहीं घुसने देंगे.

    जान का है खतरा
    प्रियंका का कहना है कि उसका पति सोशल मीडिया व फोन आदि से धमकी दे रहा है. परिवार व रिश्तेदारों ने पति व सास, ससुर से इस समस्या को लेकर कई बार मीटिंग की, मगर वे दहेज की मांग पर अड़े रहे. 1 नवंबर 2019 से मेरे व मेरे पति के बीच कोई पति -पत्नी का संबंध नहीं रहा. वह अपने माता-पिता के घर से ही आना जाना करती है. मेरे ससुराल वाले मेरे पति की कमियों को छुपाने के लिए और दहेज की मांग पूरी कराने के लिए मेरा हर प्रकार से शारीरिक, मानसिक, सामाजिक उत्पीड़न करने से बाज नहीं आ रहे हैं। उसे ससुरालियों से जान का भी खतरा है.

    गौरतलब है कि अंतरराष्ट्रीय बॉक्सर प्रियंका ने राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में शानदार प्रदर्शन कर पदक जीते हैं. प्रियंका ने अपने कॅरियर में राष्ट्रीय स्तर पर 15 से अधिक और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर आठ पदक जीते हैं. प्रियंका ने दो बार एशियन चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता है. प्रियंका 2014 से 2017 तक लगातार तीन साल तक 60 किलोग्राम भार वर्ग में नेशनल चैंपियन रही हैं. उन्हें 2017 में बेस्ट बॉक्सर भी चुना गया था. उनके पिता विजय चौधरी बेहतरीन एथलीट और रिटायर्ड इंस्पेक्टर हैं.

    Tags: Boxer, Dowry, Indian Boxers, Rudrapur

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर