मिलिए कच्ची गैंग से... इन महिलाओं ने अपने इलाक़े में बंद करवा दिया अवैध शराब का कारोबार
Udham-Singh-Nagar News in Hindi

काशीपुर के टांडा उज्जैन क्षेत्र में कभी कच्ची शराब का बोलबाला था.

  • Share this:
इसी साल फ़रवरी में उत्तराखंड और यूपी ज़हरीली शराब से मौतों के बाद हिल गए थे. सहारनपुर और रुड़की दोनों जगह 70 से ज़्यादा लोग मारे गए थे. काशीपुर के टांडा उज्जैन में भी कभी-भी ऐसा ही हादसा हो सकता था क्योंकि यहां कच्ची शराब का काम खुलेआम चल रहा था. लेकिन यहां की महिलाओं ने न तो किसी हादसा होने का इंतज़ार किया और न ही अपने परिवारों को बर्बाद होते देखती रहीं. इन महिलाओं ने डंडे उठाए और शराब बेचने वालों को ढूंढ-ढूंढ कर पकड़ना शुरु किया. अब इन महिलाओं को स्थानीय लोग कच्ची गैंग के नाम से जानते हैं.

शराब के विरोध में रही हैं महिलाएं

वैसे यह उत्तराखंड की विडंबना ही है कि यहां के लोग, ख़ासकर महिलाएं शराब की खुलकर विरोधी हैं लेकिन सरकार या व्यवस्था को शराब के कारोबार में भलाई दिखती है. देवप्रयाग में शराब पर बवाल से भी यह बात फिर साबित हुई है. बीते साल शराब की दुकानें खोले जाने का महिलाओं ने खुलकर विरोध किया था और शराब बेचने पर आमादा सरकार ने कई महिलाओं पर केस तक दर्ज किए थे. काशीपुर से एक बार फिर महिलाओं के शराब के ख़िलाफ़ अभियान की ये शानदार तस्वीरें सामने आई हैं.



काशीपुर के टांडा उज्जैन क्षेत्र में कभी कच्ची शराब का बोलबाला था. यहां के पुरुष शराब के आदी हो चुके थे. बताया जाता है कि कई लोग तो इस शराब की भेंट चढ़ गए थे, परिवार बर्बाद हो रहे थे. शराब का चलन इस कदर बढ़ चुका था कि युवा पीढ़ी भी इसकी लती होती जा रही थी. आखिरकार महिलाओं ने इस अवैध शराब के कारोबार के ख़िलाफ़ खुद खड़े होने का फ़ैसला किया.
डंडे वाला महिला दल

महिलाओं ने डंडे उठाए और चल पड़ीं कच्ची शराब बेचने वालों की खबर लेने. ये महिलाएं जहां भी कच्ची शराब बिकते देखतीं वहीं बेचने वाले की खबर लेतीं और फिर पुलिस को बुलाकर उन्हें सौंप देतीं. शराब बनाने वाले इस कच्ची गैंग से इतने ख़ौफ़ में आ गए कि उन्होंने क्षेत्र में शराब बेचना छोड़ दिया.

महिलाओं के इस दल को आज स्थानीय लोग कच्ची गैंग के नाम से बुलाते हैं. आज भी यह कच्ची गैंग बदस्तूर अपना काम कर रहा है और छुप-छुपकर कच्ची बेचने वालों की खबर ले रहा है ताकि अवैध रूप से शराब बेचने वाला कोई भी फिर यहां पैर न जमा सके.

Facebook पर उत्‍तराखंड के अपडेट पाने के लिए कृपया हमारा पेज Uttarakhand लाइक करें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading