अपना शहर चुनें

States

चारधाम यात्रियों को अगले साल से नहीं होगी कोई दिक्कतें: रणजीत रावत

चारों धामों के कपाट बंद होने के बाद अब सरकार फिर से नए एक्शन मोड में नजर आ रही है. मुख्यमंत्री हरीश रावत के औद्योगिक सलाहकार रणजीत रावत ने बताया है कि केदारनाथ और बदरीनाथ धाम के कपाट बंद होने के बाद सरकार ने अब विकास कार्य और तेजी से करने के निर्देश दिए हैं.
चारों धामों के कपाट बंद होने के बाद अब सरकार फिर से नए एक्शन मोड में नजर आ रही है. मुख्यमंत्री हरीश रावत के औद्योगिक सलाहकार रणजीत रावत ने बताया है कि केदारनाथ और बदरीनाथ धाम के कपाट बंद होने के बाद सरकार ने अब विकास कार्य और तेजी से करने के निर्देश दिए हैं.

चारों धामों के कपाट बंद होने के बाद अब सरकार फिर से नए एक्शन मोड में नजर आ रही है. मुख्यमंत्री हरीश रावत के औद्योगिक सलाहकार रणजीत रावत ने बताया है कि केदारनाथ और बदरीनाथ धाम के कपाट बंद होने के बाद सरकार ने अब विकास कार्य और तेजी से करने के निर्देश दिए हैं.

  • Share this:
चारों धामों के कपाट बंद होने के बाद अब सरकार फिर से नए एक्शन मोड में नजर आ रही है. मुख्यमंत्री हरीश रावत के औद्योगिक सलाहकार रणजीत रावत ने बताया है कि केदारनाथ और बदरीनाथ धाम के कपाट बंद होने के बाद सरकार ने अब विकास कार्य और तेजी से करने के निर्देश दिए हैं.

इसके चलते केदारनाथ धाम के मुख्य पढ़ाव सोनप्रयाग में रहने और पार्किंग की व्यवस्था के साथ ही लैनचोली से केदार धाम तक रोपवे के निर्माण कार्य कराए जाएंगे. उन्होंने कहा कि इससे अगले साल कपाट खुलने के बाद यात्रियों को किसी तरह की कोई दिक्कतें नहीं होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज