Assembly Banner 2021

एनएच 74 मुआवजा घोटाला: गलत तरीके से लिया अतिरिक्त मुआवजा लौटाएंगे किसान

एनएच-74 (फाइल फोटो)

एनएच-74 (फाइल फोटो)

कृषि योग्य भूमि को अकृषि भूमि में दर्शाकर जसपुर, काशीपुर, सितारगंज और बाजपुर के दर्जनों किसानों ने दस से लेकर बीस गुना तक अधिक मुआवजा ले लिया था.

  • Share this:
उत्तराखंड के ऊधमसिंह नगर जिले में हुए एनएच-74 भूमि मुआवजा घोटाले में गलत तरीके से कई गुना अधिक मुआवजा लेने वाले जिले के कुल 48 किसान अब करोड़ों रुपये का अतरिक्त मुआवजा वापस करना पड़ सकता है. एनएच-74 भूमि मुआवजा घोटाले में कृषि योग्य भूमि को अकृषि भूमि में दर्शाकर जसपुर, काशीपुर, सितारगंज और बाजपुर के दर्जनों किसानों ने दस से लेकर बीस गुना तक अधिक मुआवजा ले लिया था.

इस पूरे मामले में जांच के बाद एसआईटी ने ऐसे कई आरोपी किसानों की गिरफ्तारी के लिए कोर्ट से गैर जमानती वारंट प्राप्त कर लिया है. गिरफ्तारी के डर से अब दबाव में आकर आरोपी किसान लिया गया अतरिक्त मुआवजा वापस करने की तैयारी कर रहे हैं.

बता दें कि बीते 9 मार्च के कोर्ट के आदेश पर के जसपुर के एक आरोपी किसान ने गलत तरीके से लिया गया एक करोड़ रुपये का अतिरिक्त मुआवजा वापस कर दिया है.



चुटकी देवरिया में टोल शिफ्टिंग में घोटाले की जांच के लिए भी एसआईटी ने पांच काश्तकारों के हस्ताक्षर जांच के लिए एफएसएल देहरादून भेजे हैं. जांच की रिपोर्ट आने के बाद बड़ी कार्रवाई हो सकती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज