Home /News /uttarakhand /

अब ऊधमसिंह नगर जिले में सामने आया करोड़ों का चावल घोटाला

अब ऊधमसिंह नगर जिले में सामने आया करोड़ों का चावल घोटाला

कार्यालय, वरिष्ठ विपणन अधिकारी

कार्यालय, वरिष्ठ विपणन अधिकारी

जसपुर कोतवाली पुलिस ने आरोपी राइस मिलर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. साथ ही पुलिस ने जसपुर के वरिष्ठ विपणन अधिकारी के कार्यालय से इस पूरे मामले से संबंधित पत्रावलियों को भी कब्जे में ले लिया है.

    उत्‍तराखंड के ऊधमसिंह नगर जनपद में करोड़ों रुपए के एनएच-74 भूमि मुआवजे और गेहूं बीज घोटाले के बाद अब जिले के जसपुर क्षेत्र में चावल घोटाले के एक बड़े मामले का खुलासा हुआ है. जसपुर कोतवाली पुलिस ने आरोपी राइस मिलर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. साथ ही पुलिस ने जसपुर के वरिष्ठ विपणन अधिकारी के कार्यालय से इस पूरे मामले से संबंधित पत्रावलियों को भी कब्जे में ले लिया है.

    दरअसल जसपुर के वरिष्ठ विपणन अधिकारी और जसपुर की डीएन एग्रो राइस मिल के निदेशक निकेश अग्रवाल की मिलीभगत से गरीबों को मिलने वाले चावल को पहले तो फर्जी दस्तावेजों के आधार पर ठिकाने लगा दिया गया और बाद में फर्जी दस्तावेजों के आधार पर राइस मिल मालिक ने सरकार से चावल के एवज में करोड़ों रुपए का भुगतान भी प्राप्त कर लिया.

    उधर इस पूरे मामले में जसपुर कोतवाली पुलिस ने आरोपी राइस मिलर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर इस पूरे मामले की जांच शुरू कर दी है. साथ ही सोमवार को पुलिस ने जसपुर के वरिष्ठ विपणन अधिकारी के कार्यालय से इस पूरे मामले से संबंधित पत्रावलियों को भी कब्जे में ले लिया है.

    आपको बता दें कि बता दें कि इससे पहले ऊधमसिंहनगर में 500 करोड़ रुपए का सड़क चौड़ीकरण घोटाला सामने आया था. इसके बाद राज्य सरकार द्वारा गठित एसआईटी ने डीपी सिंह को मुख्य आरोपी बनाते हुए 24 आरोपियों को गिरफ्तार किया था.

    ये भी पढ़ें- हर की पैड़ी पहुंची एकता कपूर, अपनी पहली वेब फिल्म ‘अपहरण’ की सफलता के लिए की प्रार्थना

    ये भी पढे़ं- भूल जाओ मेट्रो... CM ने कहा- देहरादून की जमीन इसके लायक नहीं

    Tags: Uttarakhand news

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर