Home /News /uttarakhand /

रुद्रपुर में दो हाथियों की मौजूदगी के चलते दहशत का माहौल, मौके पर वन विभाग व पुलिस

रुद्रपुर में दो हाथियों की मौजूदगी के चलते दहशत का माहौल, मौके पर वन विभाग व पुलिस

हाथियों की फोटो लेने के चक्कर में मौके पर पंहुचे एक व्यक्ति को एक हाथी ने हमला कर घायल भी कर दिया.

    पीलीभीत के जंगल से भटक कर दो नर टस्कर हाथी रामपुर होते हुए आज रुद्रपुर नगर निगम के वार्ड नंबर 16 में पहुंच गए. रामपुर के बिलासपुर क्षेत्र में बीते 30 जून को दो लोगों को मौत के घाट उतारने वाले ये दो हाथी आज जैसे ही रुद्रपुर पहुंचे तो यहां के स्थानीय लोगों में दहशत फैल गई. इन दोनों हाथियों ने रुद्रपुर के वार्ड नंबर 16 के शांति कॉलोनी में  अपना डेरा जमा लिया है. हाथियों के इस जोड़े को देखने के लिए लोग अपने-अपने घर की छतों पर चढ़ गए. उधर हाथियों की फोटो लेने के चक्कर में मौके पर पंहुचे एक व्यक्ति को एक हाथी ने हमला कर घायल भी कर दिया. बाद में इन दोनों गजराजों ने मौके पर मौजूद एक हरे भरे प्लॉट पर कब्जा जमा लिया और कीचड़ में लोट-पोट कर अपनी थकान के साथ ही गर्मी को भी दूर किया. थोड़ी देर बाद प्लॉट में लगे हरे भरे चारे को खाकर इन हाथियों ने अपनी भूख भी मिटाई.

    विद्युत आपूर्ति बंद की गई
    रुद्रपुर शहर में हाथियों के आने की सूचना से पुलिस-प्रशासन के साथ वन विभाग के अधिकारियों के हाथ-पांव फूल गए. आनन-फानन में प्रशासन के आदेश पर विद्युत विभाग के अधिकारियों ने सबसे पहले एहतियात के तौर पर पूरे शहर की विद्युत आपूर्ति बंद कर दी. उधर हाथी की निगरानी और सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर मौके पर भारी संख्या में पुलिस और पीएसी के जवानों के साथ ही वन विभाग के 80 अधिकारी और कर्मचारियों को भी तैनात कर दिया गया है.

    हाथियों पर नजर
    तराई केंद्रीय वन प्रभाग में डीएफओ आरके सिंह ने कहा कि ये हाथी पीलीभीत टाइगर रिजर्व के लग रहे हैं. इन्हें डिस्टर्ब नहीं करेंगे तो ये वापस लौट जाएंगे. उन्होंने कहा कि पिछले एक हफ्ते से इनकी गतिविधियों को लोकेट किया जाता रहा है. यहां निगरानी के लिए पुलिस प्रशासन से मदद मांगी गई है. साथ ही कहा कि उन्होंने भी 25 से 30 लोगों की दो-तीन टीम बनाई है. ये सभी दोनों हाथियों पर नजर बनाए हुए हैं. आम जन को इन हाथियों से दूर रहने को कहा गया है.

    बता दें कि पुलिस प्रशासन और वन विभाग के अधिकारियों ने देर रात इन दोनों हाथियों को वापस जंगल में खदेड़ने की योजना बनाई है. हाथियों को वापस जंगल में भगाने के लिए पटाखों के साथ ही वन विभाग की क्विक रिएक्शन टीम के अलावा हथियारों से लैस पुलिस और पीएसी के जवानों को भी तैनात कर दिया गया है.

    ये भी देखें - मेडिकल कॉलेज में अभी भी नहीं मिला गुलदार का लोकेशन

    ये भी पढ़ें - चुनाव में हार के बाद भी कांग्रेस के दिग्गज चल रहे अपनी राह

    Tags: Forest department, Uttarakhand news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर