OMG... यहां क्वारंटीन सेंटर्स में दारू-मुर्गा मांग रहे हैं लोग... डिमांड पूरी न करने पर प्रधानों को मिल रही धमकियां
Udham-Singh-Nagar News in Hindi

OMG... यहां क्वारंटीन सेंटर्स में दारू-मुर्गा मांग रहे हैं लोग... डिमांड पूरी न करने पर प्रधानों को मिल रही धमकियां
खटीमा तहसील में ऊधम सिंह नगर जिले के डीपीआरओ विद्या दत्त सेमवाल ने प्रधानों के साथ बैठक की. इसमें प्रधानों ने अपनी बात रखी.

DPRO ने कहा कि शराब, मीट, मुर्गा सरकार की तरफ से दी जाने वाली सुविधाओं में शामिल नहीं है, लिहाज़ा ये नहीं दिए जा सकते.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
खटीमा. गांवों के क्वारंटीन सेंटरों में तरह-तरह की परेशानियां सामने आ रही हैं. कहीं पीने का पानी नहीं, तो कहीं खाने की दिक्कत है. कई ऐसे सेंटर भी हैं जो रहने लायक ही नहीं हैं क्योंकि न तो शौचालय की व्यवस्था है और न ही सफ़ाई की. जर्जर हो चुकी बिल्डिगों में किसी तरह लोग 10 से 14 दिन गुज़ारने पर मजबूर हैं. इन सब परेशानियों के बीच ऊधम सिंह नगर के खटीमा से ऐसी बातें सामने आ रही हैं जो हैरान करने वाली हैं. यहां के कुछ क्वारंटीन सेंटर्स में रखे गए लोग दारू और मुर्गे की मांग कर रहे हैं और न देने पर हंगामा कर रहे हैं. साथ ही प्रधानों को भी धमकी मिल रही है.

प्रधानों से अभद्रता 

बुधवार को प्रधानों ने नोडल अधिकारी के सामने रखी यह बात. खटीमा तहसील में ऊधम सिंह नगर जिले के डीपीआरओ विद्या दत्त सेमवाल ने प्रधानों के साथ बैठक की. डीपीआरओ ने प्रधानों को क्वारंटीन करने के दौरान आ रही दिक्कतों के बारे में पूछा.



इस दौरान प्रधानों की तरफ से समस्या रखते हुए प्रधान संगठन के महामंत्री और दियां गांव के प्रधान मुकेश ने बताया कि क्वारंटीन किए गए लोग तरह-तरह की डिमांड कर रहे हैं. इसमें उनकी पसंद के खाने से लेकर मीट-मुर्गा तक शामिल है.



मुकेश के अनुसार तहसील के कई गांवों के प्रधानों ने उन्हें बताया है कि क्वारंटीन किए गए लोग शराब और मीट-मुर्गा मांग रहे हैं और न देने की स्थिति में प्रधानों से अभद्रता की जा रही है. इस बात पर मीटिंग में मौजूद तकरीबन 50 प्रधानों ने हामी भरी.

शिकायत करें प्रधान 

डीपीआरओ विद्या दत्त सोमवाल ने साफ किया कि शराब, मीट, मुर्गा सरकार की तरफ से दी जाने वाली सुविधाओं में शामिल नहीं है, लिहाज़ा वो किसी स्थिति में नहीं दिए जा सकते. फिर भी कोई क्वारंटीन नियमों का उल्लंघन कर इन चीजों की डिमांड करता है तो ऐसे व्यक्तियों के खिलाफ मुकदमा होगा. प्रधान इसकी शिकायत दर्ज कराएं.

बता दें कि अभी तक सवा लाख प्रवासी वापसी कर चुके हैं. इस बीच क्वारंटीन सुविधाओं को लेकर हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाने वाले अधिवक्ता दुष्यंत मैनाली के मुताबिक सरकार ने उच्च न्यायालय को बताया है कि 2 जून तक तकरीबन सवाल लाख प्रवासी लोग राज्य वापसी करेंगे और चार लाख से ज्यादा लोग अभी भी वेटिंग पर हैं. ऐसे में इनके क्वारंटीन को लेकर चिंताएं बढ़ गई हैं.

ये भी देखें: 

उत्तराखंडः कांग्रेस का आरोप - क्या BJP कोरोना-प्रूफ है? पार्टी देखकर दर्ज हो रहे Lockdown के केस 

 
First published: May 28, 2020, 1:52 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading