Home /News /uttarakhand /

बिजली चोरी मामले में 5 अधिकारियों के निलंबन के बाद पुलिस की जांच शुरू

बिजली चोरी मामले में 5 अधिकारियों के निलंबन के बाद पुलिस की जांच शुरू

ऊधमसिंह नगर - पुलिस ने विद्युत विभाग की विजलेंस टीम के अधिकारियों के बयान दर्ज किए.

ऊधमसिंह नगर - पुलिस ने विद्युत विभाग की विजलेंस टीम के अधिकारियों के बयान दर्ज किए.

गदरपुर के यशोदा इंडस्ट्री में विजिलेंस टीम द्वारा पकड़ी गई 70 लाख रूपये की बिजली चोरी के मामले में पांच अधिकारियों के निलंबन के बाद गुरुवार को पुलिस ने इस पूरे मामले की जांच शुरू कर दी है.

    ऊधमसिंह नगर के गदरपुर के यशोदा इंडस्ट्री में विजिलेंस टीम द्वारा पकड़ी गई 70 लाख रूपये की बिजली चोरी के मामले में पांच अधिकारियों के निलंबन के बाद गुरुवार को पुलिस ने इस पूरे मामले की जांच शुरू कर दी है. गदरपुर थाने में पुलिस ने विद्युत विभाग की विजलेंस टीम के अधिकारियों के बयान दर्ज किए हैं. गौरतलब है कि बीते 20 अप्रैल को गदरपुर के यशोदा इंडस्ट्री में विद्युत विभाग की विजिलेंस टीम ने 70 लाख रुपये की बिजली चोरी के मामले में मिल मालिक अजय कुमार पांडे के खिलाफ गदरपुर थाने में बिजली चोरी का मुकदमा दर्ज करवाया था. इस पूरे माले में बीते 24 अप्रैल को एमडी यूपीसीएल ने रुद्रपुर के सुपरिटेंडेंट इंजीनियर नरेंद्र सिंह टोलिया, एक्जीक्यूटिव इंजीनियर उमाकांत चतुर्वेदी और गदरपुर के एसडीओ गिरीश चंद आर्य को सस्पेंड कर दिया है.

    आपको बता दें की इस पूरे मामले में लापरवाही बरतने पर गदरपुर के जूनियर इंजीनियर महेंद्र कुमार और सब स्टेशन ऑपरेटर को पहले ही निलंबित किया जा चुका है.

    ये भी पढ़ें - प्रदूषण फैलाने वाली एक भी फ़ैक्ट्री बंद नहीं हुई, SPCB ने ठहराया स्थानीय प्रशासन को ज़िम्मेदार

    ये भी देखें - VIDEO: मोदी जी से पहले ज्योतिष में अपना योग देख लें हरीश रावत : सीएम त्रिवेंद्र रावत

    Facebook पर उत्‍तराखंड के अपडेट पाने के लिए कृपया हमारा पेज Uttarakhand लाइक करें.

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

    Tags: Electricity, Uttarakhand news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर