अपना शहर चुनें

States

रूद्रपुर: इंसानों के लिए खतरा बना शहर के बीच स्थित यह कचरे का ढेर

रूद्रपुर टचिंग ग्राउंड
रूद्रपुर टचिंग ग्राउंड

नगर निगम रूद्रपुर के चार वार्डों के पास स्थित इस कूड़े के ढेर से निकलने वाली भीषण बदबू और गैस से आस-पास के लोगों का जीना मुहाल हो गया है. दूसरी तरफ भोजन की तलाश में मवेशी यहां पहुंचकर पॉलिथीन व अन्य जहरीली वस्तुओं को खा रहे हैं, जिससे लगातार मवेशियों की मौत हो रही है.

  • Share this:
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के महत्वकांक्षी अभियान स्वच्छ भारत अभियान को रूद्रपुर नगर निगर पलीता लगाने में जुटा हुआ है. रूद्रपुर नगर निगम द्वारा शहर से निकनले वाले कचरे को राष्ट्रीय राजमार्ग-74 से सटे टचिंग ग्राउंड में डाला जा रहा है. यह मैदान पहले से ही लाखों टन कूड़े के ढेर से अटा पड़ा है. शहर के बीचों-बीच स्थित लाखों टन कूड़े का ढेर इंसान और जानवरों के लिए खतरा बन गया है.

नगर निगम रूद्रपुर के चार वार्डों के पास स्थित इस कूड़े के ढेर से निकलने वाली भीषण बदबू और गैस से आस-पास के लोगों का जीना मुहाल हो गया है. दूसरी तरफ भोजन की तलाश में मवेशी यहां पहुंचकर पॉलिथीन व अन्य जहरीली वस्तुओं को खा रहे हैं, जिससे लगातार मवेशियों की मौत हो रही है.

क्षेत्र में फैली इस गंदगी को लेकर नगर निगम के नवनिर्वाचित मेयर रामपाल सिंह का कहना है कि अगल साल माह के अंगर वो इंदौर नगर निगम की तर्ज पर रूद्रपुर शहर को साफ बनाने और कूड़े के निस्तारण की योजना बना लेंगे, जिस पर जल्द की काम शुरू किया जाएगा. शहर के बीचों-बीच स्थित टचिंग ग्राउंड में बने कूड़दान पर मेयर ने कोई जवाब नहीं दिया. स्थानीय लोग लगातार इस टचिंग ग्राउंड को शहर से बाहर शिफ्ट करने की मांग कर रहे हैं.



यह भी पढ़ें-  स्वच्छ भारत अभियान के लिए सॉफ्टवेयर लॉन्च
यह भी पढ़ें-  उत्तराखंड को 2019 तक पूर्ण साक्षर बनाने की जिम्मेदारी जिलाधिकारियों की : त्रिवेंद्र

यह भी पढ़ें-  उत्तराखंड: स्वच्छ भारत अभियान में हुए घोटाले पर HC ने दिए कार्रवाई के आदेश
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज