Home /News /uttarakhand /

गर्भवती को नहीं किया CHC में भर्ती, सड़क पर दिया बच्चे को जन्म, दो घंटे में नवजात की मौत

गर्भवती को नहीं किया CHC में भर्ती, सड़क पर दिया बच्चे को जन्म, दो घंटे में नवजात की मौत

किच्छा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र  में Hepatitis B से पीड़ित एक गर्भवती महिला को भर्ती करने से मना कर दिया गया. इसके बाद वापस ले जाते समय महिला ने सड़क पर ही बच्चे को जन्म दे दिया.

किच्छा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में Hepatitis B से पीड़ित एक गर्भवती महिला को भर्ती करने से मना कर दिया गया. इसके बाद वापस ले जाते समय महिला ने सड़क पर ही बच्चे को जन्म दे दिया.

भाजपा विधायक राजेश शुक्ला ने सीएमओ को शिकायत की. इसके बाद इस मामले की जांच सीएचसी किच्छा के चिकित्सा अधीक्षक को सौंपी गई.

    ऊधम सिंह नगर के किच्छा से इंसानियत को शर्मनाक करने वाला एक मामला सामने आया है. यहां  सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (Community Health Center- CHC) में काला पीलिया (Hepatitis B) से पीड़ित एक गर्भवती महिला (Pregnant Woman) को डॉक्टरों ने भर्ती करने से मना (Doctors Denied Admission) कर दिया. इसके बाद वापस ले जाते समय महिला ने सड़क पर ही बच्चे को जन्म दे दिया. दुर्भाग्यवश दो ही घंटे में इलाज के अभाव में नवजात की मौत हो गई. स्थानीय विधायक की शिकायत के बाद सीएमओ (CMO) ने इस मामले की जांच के आदेश दिए हैं.

    सीएचसी स्टाफ़ ने भगाया
    ऊधम सिंह नगर के किच्छा में आज सुबह काला पीलिया (हैपेटाइटिस बी) से पीड़ित एक महिला को प्रसव के लिए लाया गया था. पीड़िता की मां शायरा ने आरोप लगाया है कि डॉक्टरों में उनकी बेटी को अस्पताल में भर्ती करने से इनकार कर दिया. इसके बाद परिजन उसे वहां से ले जाने लगे तो अस्पताल के बाहर ही उसे प्रसव पीड़ा हुई और वहीं उसने बच्चे को जन्म दे दिया.

    शायरा ने बताया कि वहां मौजूद एक महिला पुलिसकर्मी और कुछ और लोगों ने उनकी मदद की सीएचसी स्टाफ़ का दिल फिर भी नहीं पसीजा. आखिरकार इलाज के अभाव में नवजात बच्चे की पैदा होने के दो घंटे बाद ही मौत हो गई.

    जांच शुरू 
    इस मामले का पता चलने के बाद स्थानीय भाजपा विधायक राजेश शुक्ला ने सीएमओ को शिकायत की. राजेश शुक्ला ने साफ़ कहा कि दोषी चाहे डॉक्टर हों, या नर्सिंग स्टाफ़ या कोई और... वह इस मामले को अंजाम तक ले जाएंगे और दोषियों को सज़ा दिलवाएंगे.

    सीएमओ ने विधायक की शिकायत के बाद इस मामले की जांच सीएचसी किच्छा के चिकित्सा अधीक्षक को सौंप दी है. चिकिस्ता अधीक्षक हरीश चंद्र त्रिपाठी ने कहा कि वह इस मामले की जांच कर रहे हैं
    और जो भी दोषी पाया जाएगा उसके ख़िलाफ़ सख़्त कार्रवाई की जाएगी.

    ये भी देखें: 

    NHM पिथौरागढ़ में संविदा पर तैनात अविवाहित लड़कियों का होगा प्रेग्नेंसी टेस्ट

    शर्मनाकः महिला ने सड़क पर दिया बच्चे को जन्म, बिना एंबुलेंस गोपेश्वर से किया था श्रीनगर रैफ़र

    Tags: Udham Singh Nagar news, Uttarakhand news, Uttarakhand Women, Women Health

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर