Home /News /uttarakhand /

पोते से मिलने की आस लिए दुनिया से विदा हो गए जसप्रीत बुमराह के दादा

पोते से मिलने की आस लिए दुनिया से विदा हो गए जसप्रीत बुमराह के दादा

    ऊधमसिंहनगर ज़िले के किच्छा में रहने वाले भारतीय टीम के क्रिकेटर जसप्रीत बुमराह के 84 वर्षीय दादा संतोख सिंह बुमराह अपने पोते से मिलने की आस लिए ही दुनिया से विदा हो गए.

    संतोख सिंह की लाश संदिग्ध परिस्थितियों में गुजरात की साबरमती नदी में मिली. क्रिकेटर जसप्रीत बुमराह के 84 वर्षीय दादा संतोख सिंह किच्छा से अपने पोते से मिलने अहमदाबाद पंहुचे थे लेकिन  जसप्रीत बुमराह से उनकी मुलाकात नहीं हो पाई थी.

    बीते शुक्रवार को संतोख सिंह अहमदाबाद से लापता हो गए थे और जब पुलिस ने संतोख सिंह की खोजबीन शुरू की तो संदिग्ध परिस्थितियों में साबरमती नदी से पुलिस को संतोख सिंह की लाश बरामद हुई.

    बता दें कि जसप्रीत बुमराह के दादा ऊधमसिंहनगर के किच्छा में रहते थे और ऑटो चलाकर अपना गुज़ारा करते थे. ग़ौरतलब है कि संतोख सिंह पूर्व में काफी अमीर हुआ करते थे और उनकी गुजरात के अहमदाबाद में 3 फैक्ट्रियां थीं.

    लेकिन 2001 में जसप्रीत बुमराह के पिता जसवीर बुमराह की मौत होने के बाद इस परिवार पर एक के बाद एक मुसीबतें आनी शुरू हो गईं और आर्थिक तंगी के कारण संतोख सिंह को अपनी तीनों फैक्ट्रियां बेचनी पड़ीं.

    हालात बिगड़ते देख संतोख बुमराह को अपना सारा कारोबार बेचकर उत्तराखंड आना पड़ा. सूत्रों के अनुसार कुछ पारिवारिक कराणों से जसप्रीत बुमारह अपनी मां के साथ अपने दादा से अलग रहने लगे थे.

    उत्तराखंड से केवल एक बार अपने पोते से मिलने की आस में अहमदाबाद पहुंचे संतोख सिंह की अंतिम इच्छा भी पूरी नहीं हो पाई.

     

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर