Uttarakhand Assembly Election: किसानों पर कांग्रेस का फोकस, फरवरी में होंगे 2 बड़े प्रोग्राम

विधानसभा चुनाव की तैयारी में कांग्रेस.

विधानसभा चुनाव की तैयारी में कांग्रेस.

उत्तराखंड विधानसभा चुनाव 2022: विधानसभा चुनाव की तैयारियों में कांग्रेस (Congress) जुट गई है. 15 फरवरी को जहां हर जिले में किस्सन पद यात्रा निकलेगी, वहीं 25 फरवरी को किसानों के गढ़ उधमसिंह नगर में बड़ी  सभा की तैयारी है जिसमें प्रभारी देवेंद्र यादव भी मौजूद रहेंगे. 

  • Share this:

देहरादून. चुनावी साल में उत्तराखंड (Uttarakhand Election) कांग्रेस भी एक्टिव मोड में आ चुकी है. इसी कड़ी में फरवरी में कांग्रेस किसानों के मुद्दे उठाने के 2 बड़े प्लान बना चुकी है. वहीं तैयारी प्रदेश अध्यक्ष और प्रभारी के जिलों के दौरे की भी हो रही है. विपक्ष में बैठी कांग्रेस (Congress) के पास किसानों को आश्वासन देने के अलावा कुछ नहीं है, लेकिन भविष्य के भरोसे के साथ कांग्रेस किसानों को साथ जोड़ना चाहती है. फिर मुद्दा चाहे किसानों के कर्ज का हो, नए किसान कानूनों का या फिर किसानों के बकाए भुगतान का. यही वजह है कि 15 फरवरी को जहां हर जिले में किस्सन पद यात्रा निकलेगी, वहीं 25 फरवरी को किसानों के गढ़ उधमसिंह नगर में बड़ी  सभा की तैयारी है जिसमें प्रभारी देवेंद्र यादव भी मौजूद रहेंगे.

कांग्रेस उपाध्यक्ष  सूर्यकांत धस्माना ने बताया कि कांग्रेस कमेटियां अपने-अपने जिले में कम से कम दस किलोमीटर की पदयात्रा आयोजित करेंगी जिसमें पार्टी के समस्त प्रदेश, जिला, ब्लॉक पदाधिकारियों के अलावा बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं की भागीदारी आवश्यक है. उन्होंने बताया कि इन पदयात्राओं के माध्यम से तीनों किसान विरोधी काले कानूनों को रद्द करने के साथ ही किसानों का कर्ज माफ करने, गन्ने का बकाया भुगतान करने के मुद्दे प्रमुखता से उठाए जाएंगे.

ये भी पढ़ें: Gopalganj News: ऑनलाइन गेम में हारे दोस्त बने कातिल, छात्र की हत्या कर नदी में फेंकी लाश

किसानों को साथ जोड़ने की कोशिश में कांग्रेस
एक तरफ कांग्रेस जहां प्रदर्शन के जरिए किसानों को साथ जोड़ना चाहती है, वहीं कार्यकर्ता के अंदर जीत का भरोसा भी जगाना चाहती है. इसी प्लान के तहत प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह जल्द जिलों के दौरे पर निकलेंगे. कांग्रेस किसान को भी साथ चाहती है और कार्यकर्ता को भी, लेकिन दोनों फ्रंट पर बीजेपी से बड़ी चुनौती मिल रही है. एक तरफ मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत 6 फरवरी को 25 हजार किस्सनों को सस्ते लोन की सौगात देने वाले हैं, तो प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत खुद 70 विधानसभा क्षेत्रों के दौरे पर हैं. ऐसे में को कांग्रेस के लिए दोनों काम आसान नहीं दिख रहे हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज