अपना शहर चुनें

States

उत्तराखंड में 679 रुपए में करा सकेंगे Corona जांच, सरकार ने तय की रैपिड एंटीजन टेस्टिंग की फीस

उत्तराखंड सरकार ने कोरोना की जांच के लिए न्यूनतम फीस तय कर दी है. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)
उत्तराखंड सरकार ने कोरोना की जांच के लिए न्यूनतम फीस तय कर दी है. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

उत्तराखंड सरकार (Government of Uttarakhand) ने राज्य में रैपिड एंटीजन टेस्टिंग (Rapid antigen testing) कराने के लिए न्यूनतम फीस (Fee) तय कर दी है. इससे लोगों को राहत मिलेगी और कोई लेबोरेट्री (Laboratory) कोरोना टेस्टिंग के नाम पर भारी-भरकम फीस नहीं वसूल सकती हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 26, 2020, 11:10 AM IST
  • Share this:
देहरादून. कोरोना संक्रमण (Corona infection) के बढ़ते मामलों को देखते हुए उत्तराखंड सरकार ने राज्य में रैपिड एंटीजन टेस्टिंग (Rapid antigen testing) कराने के लिए न्यूनतम फीस तय कर दी है. इससे लोगों को राहत मिलेगी और कोई लेबोरेट्री (Laboratory) कोरोना टेस्टिंग के नाम पर भारी-भरकम फीस नहीं वसूल सकती. उत्तराखंड की त्रिवेंद्र सिंह रावत सरकार ने रैपिड एंटीजन टेस्टिंग के लिए न्यूनतम 679 रुपये फीस तय की है. इसी फीस पर राज्य की सभी लेबोरेट्री को कोरोना की टेस्ट रिपोर्ट देनी होगी.

इन दिनों देश में कोरोना की दूसरी लहर चल रही है, जिसमें देश के 20 राज्यों में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में तेजी से बढ़ोतरी होती दिख रही है. ऐसे में ज्यादा संख्या में कोरोना की टेस्टिंग की जरूरत पड़ने लगी है, जिसको देखते हुए उत्तराखंड सरकार ने प्रदेश की सभी लेबोरेट्रीज को कोरोना टेस्ट करने की अनुमति देने के साथ ही टेस्ट की न्यूनतम फीस तय कर दी है.


2024 में राहुल गांधी को PM बनाना मेरा लक्ष्य, अभी नहीं लूंगा राजनीति से संन्यास: हरीश रावत



इधर, गुरुवार को देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 92 लाख 66 हजार 706 के पार पहुंच गई है. वहीं पिछले 24 घंटे में देश भर में 44 हजार 489 नये कोरोना संक्रमित मिले हैं. इस दौरान 36 हजार 367 लोग ठीक भी हुए है. वहीं 524 मरीजों की कोरोना के चलते मौत हो गई है. कोरोना संक्रमण से जान गंवाने वालों की संख्या अब देश में 1 लाख 35 हजार 223 हो गई है, जबकि 86 लाख 79 हजार 138 लोग ठीक भी हुये हैं. अभी 4 लाख 52 हजार 344 मरीजों का इलाज चल रहा है.

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार देश में 20 राज्य ऐसे हैं, जहां एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़ने लगी है. इसमें उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, राजस्थान, पंजाब, महाराष्ट्र, कर्नाटक, केरल जैसे प्रदेश शामिल हैं. इन राज्यों में हर दिन ठीक होने वाले मरीजों से ज्यादा नए केस में इजाफा हो रहा है. मतलब यहां कोरोना की दूसरी लहर ने आहट दे दी है. अगर यही आलम रहा तो अगले 3-4 दिन में पूरे देश में दूसरी लहर शुरू हो सकती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज