उत्‍तरकाशी में बादल फटने से तबाही, 3 की मौत 8 लापता, केदारनाथ और चार धाम यात्रा प्रभावित

News18Hindi
Updated: August 18, 2019, 9:10 PM IST
उत्‍तरकाशी में बादल फटने से तबाही, 3 की मौत 8 लापता, केदारनाथ और चार धाम यात्रा प्रभावित
उत्‍तराखंड के उत्‍तरकाशी में बादल फटने से तबाही, पांच लापता.

घटना के 12 घंटे बाद भी NDRF और SDRF की टीमें आराकोट तक ही पहुंची सकी हैं. बताया जा रहा है कि हिमाचल से जो टीम भेजी जाने वाली थी वो टीम भी नहीं पहुंची है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 18, 2019, 9:10 PM IST
  • Share this:
उत्‍तराखंड में उत्‍तरकाशी (Uttarkashi) में बादल फटने (Cloudburst ) से पूरे इलाके में तबाही का मंजर दिखा था. वहीं नदी में अचानक जलस्‍तर बढ़ने से जल प्रलय जैसे हालात दिख रहे हैं. नदी उफान पर है और नाले ओवरफ्लो हो चुके हैं. उत्तरकाशी के डीएम आशीष चौहान ने 3 मौतों की की पुष्टि साथ ही बताया कि बादल फटने के बाद से तिकोची इलाके के आठ से 10 लोग लापता चल रहे हैं. आपदा ग्रस्त गांवों में अभी तक अभी एसडीआरएफ और एनडीआरएफ की टीम नहीं पहुंच पाई है.

आठ व्यक्तियों के लापता होने की सूचना
खबर है कि उत्तरकाशी में आपदा पीड़ितों के पास मदद नहीं पहुंची पाई है. घटना के 12 घंटे बाद भी NDRF और SDRF की टीमें आराकोट तक ही पहुंची सकी हैं. बताया जा रहा है कि हिमाचल से जो टीम भेजी जाने वाली थी वो टीम भी नहीं पहुंची है. साथ ही खराब मौसम के कारण हेलीकॉप्टर सहस्त्रधारा को हेलिपैड पर ही रहे खड़ा कर दिया गया है. इसके लिए आपदाग्रस्त गावों में रास्ता टूटने का हवाला दिया जा रहा है. मोरी ब्लॉक के कई गांवों में बादल फटने से भारी तबाही हुई है.

चारधाम यात्रा प्रभावित

चारधाम यात्रा मार्ग पर भी कई स्थानों पर भूस्खलन होने से यात्रा अवरूद्ध हो गयी. केदारनाथ यात्रा पैदल मार्ग पर मंदाकिनी नदी पर बना एक पुल क्षतिग्रस्त हो गया है जिसके चलते उसे बीच में ही रोकना पडा. इसी प्रकार बदरीनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री यात्रा मार्ग पर भी कई जगह भूस्खलन होने से यातायात अवरूद्ध है. हांलांकि, प्रशासन का कहना है कि इससे चारधाम यात्रा पर केवल आंशिक प्रभाव पड़ा है.

कैलाश- मानसरोवर यात्रा मार्ग भी भूस्खलन का मलबा आ जाने के कारण प्रभावित हुआ है तथा तीर्थयात्रियों को सुरक्षित जगह पर ले जाया जा रहा है. देहरादून के मालदेवता क्षेत्र में भारी बारिश के चलते एक कार बरसाती नदी में गिर गयी जिसमें एक महिला बह गयी.

 
Loading...




इतना ही नहीं उत्तराखंड में बीती रात से भारी बारिश हो रही है. जिसके चलते चमोली जिले के थराली इलाके में पिंडर नदी भी उफान पर है. लगातार हो रही भारी बारिश से रास्ते बंद हो चुके हैं. नदी के आसपास रह रहे लोगों का कहना है कि चार दिन से लगातार मूसलाधार बारिश के चलते जनजीवन पूरी तरह अस्‍तव्‍यस्‍त हो चुका है.

ये भी पढ़ें

धुमाकोट में 300 फुट गहरी खाई में गिरी बस, कंडक्‍टर की मौत

हर रोज जिंदगी जोखिम में डालकर स्कूल जाते हैं स्‍टूडेंट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए उत्‍तरकाशी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 18, 2019, 4:45 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...