Home /News /uttarakhand /

सरकार का चला डंडा, पैराटेक कंपनी हुई ब्लैकलिस्ट

सरकार का चला डंडा, पैराटेक कंपनी हुई ब्लैकलिस्ट

उत्तरकाशी में बाढ़ सुरक्षा कार्य कर रही किसी निर्माण कंपनी पर प्रशाशन ने पहली बार बड़ी कार्रवाई की है। प्रशाशन ने सुरक्षा कार्यों में लापरवाही और घटिया गुणवता की शिकायत पर पैराटेक कंपनी को ब्लैकलिस्ट घोषित कर दिया है।

उत्तरकाशी में बाढ़ सुरक्षा कार्य कर रही किसी निर्माण कंपनी पर प्रशाशन ने पहली बार बड़ी कार्रवाई की है। प्रशाशन ने सुरक्षा कार्यों में लापरवाही और घटिया गुणवता की शिकायत पर पैराटेक कंपनी को ब्लैकलिस्ट घोषित कर दिया है।

उत्तरकाशी में बाढ़ सुरक्षा कार्य कर रही किसी निर्माण कंपनी पर प्रशाशन ने पहली बार बड़ी कार्रवाई की है। प्रशाशन ने सुरक्षा कार्यों में लापरवाही और घटिया गुणवता की शिकायत पर पैराटेक कंपनी को ब्लैकलिस्ट घोषित कर दिया है।

उत्तरकाशी में बाढ़ सुरक्षा कार्य कर रही किसी निर्माण कंपनी पर प्रशाशन ने पहली बार बड़ी कार्रवाई की है। प्रशाशन ने सुरक्षा कार्यों में लापरवाही और घटिया गुणवता की शिकायत पर पैराटेक कंपनी को ब्लैकलिस्ट घोषित कर दिया है।

तहसीलदार से मिली रिपोर्ट पर मुहर लगाते हुए शनिवार रात जिलाधिकारी ने कंपनी को ब्लैक लिस्ट करने संबंधी रिपोर्ट शासन को भेज दी है। रिपोर्ट में कहा गया है कि कई बार के निर्देशों के बाद भी कंपनी न तो कार्य की गुणवत्ता में सुधार ला रही है और न सुरक्षा कार्य में तेजी ला पा रही है।

शनिवार को जब तहसीलदार ने कंपनी की साइट सिलकुरागाड का निरीक्षण किया तो साइट पर एक इंचार्ज के अलावा न कोई मशीनरी पायी गयी और न कोई श्रमिक।

गौरतलब है की कंपनी के पास उत्तरकाशी में जिला मुख्यालय, मनेरी और बड़कोट में करीब 25 करोड़ से अधिक के काम है। ब्लैकलिस्ट करने के तत्काल बाद प्रशाशन ने कंपनी की सभी साइट पर निर्माण कार्य रुकवा दिया है।

रिपोर्ट में जिलाधिकारी ने शासन को लिखा है की कंपनी के कार्य जल्द से जल्द किसी अन्य एजेंसी को सौंप दिए जाए।

आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.

आपके शहर से (उत्तरकाशी)

उत्तरकाशी
उत्तरकाशी

Tags: Flood

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर