होम /न्यूज /उत्तराखंड /उत्तराखंड : सड़क पर गिरी चट्टान, गंगोत्री नेशनल हाईवे 10 दिन में दूसरी बार बंद

उत्तराखंड : सड़क पर गिरी चट्टान, गंगोत्री नेशनल हाईवे 10 दिन में दूसरी बार बंद

भूस्खलन के लिए प्रतीकात्मक तस्वीर

भूस्खलन के लिए प्रतीकात्मक तस्वीर

Heavy Rains in Uttarakhand : एक सप्ताह पहले भी भूस्खलन के चलते यह हाईवे बंद हो गया था. हाल में राज्य के पहाड़ी इलाकों म ...अधिक पढ़ें

    उत्तरकाशी. उत्तराखंड के कई पहाड़ी इलाकों में भारी बारिश का दौर जारी है. भारी बारिश के चलते या उसके बाद भूस्खलन का खतरा बढ़ जाता है और इस बारे में मौसम विभाग ने 22 जुलाई तक के लिए अनुमान जारी करते हुए चेतावनी भी जारी की थी. ताज़ा खबर यह है कि भूस्खलन के चलते गंगोत्री नेशनल हाईवे ब्लॉक हो गया है. यह वही उत्तरकाशी ज़िला है, जहां दो दिन पहले सोमवार को बादल फटने के कारण तबाही ​मची थी. मांडो गांव में तीन लोगों की मौत हुई थी और कई मकान भारी बारिश की चपेट में आ गए थे.

    समाचार एजेंसी एएनआई ने बुधवार सुबह के ताज़ा ट्वीट में बताया गया कि उत्तरकाशी ज़िले के सूनागढ़ इलाके के पास भूस्खलन के चलते नेशनल हाईवे ब्लॉक हो गया है. इस साल भारी बारिश में गंगोत्री नेशनल हाईवे का अवरुद्ध हो जाना एक समस्या बन चुका है. इससे पहले 12 जुलाई को भी यह हाईवे इसी कारण से बंद हो गया था. हालांकि तब यह भूस्खलन दाबरानी क्षेत्र में हुआ था.

    ये भी पढ़ें : उत्तराखंड हाई कोर्ट ने कहा, 'अज्ञात लोगों के इशारे पर दायर की जा रही हैं याचिकाएं'




    एक हफ्ते पहले हुए इस भूस्खलन के चलते करीब आधा दर्जन गांव मुख्यालय से कट गए थे. हालांकि आठ से दस घंटों के राहत कार्य के बाद इस हाईवे को तब खोला जा सका था. यह भी गौरतलब है कि बीते सोमवार को ही पहाड़ी ज़िलों में हुई मूसलाधार बारिश के बाद 250 सड़कें बंद हो गई थीं, जिनमें से कई सड़कें अब तक नहीं खुल सकी हैं.

    Tags: Landslide, Uttarakhand news

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें