लाइव टीवी

आकाशीय बिजली से बाल-बाल बचा दो परिवार, पशुधन की बड़ी हानि
Uttarkashi News in Hindi

News18 Uttarakhand
Updated: June 6, 2018, 12:37 PM IST
आकाशीय बिजली से बाल-बाल बचा दो परिवार, पशुधन की बड़ी हानि
उत्तरकाशी में आकाशीय बिजली ने दो परिवारों के सारे पशुधन को समाप्त कर दिया. राहत की बात यह है कि कोई जनहानि नहीं हुई है.

नायब तहसीलदार और कानूनगो सुबह-सुबह मौके पर पहुंच गए. उन्होंने 21 जानवरों के मारे जाने की पुष्टि की है.

  • Share this:
उत्तरकाशी में आकाशीय बिजली ने दो परिवारों के सारे पशुधन को समाप्त कर दिया. राहत की बात यह है कि कोई जनहानि नहीं हुई है, लोग बाल-बाल बच गए हैं. प्रशासन की टीम मौके पर पहुंच गई है.

बड़कोट तहसील के धारी कलोगी क्षेत्र में देर रात आकाशीय बिजली क़हर बनकर टूटी. रात तीन बजकर दो मिनट पर बिजली गिरने से दो भाइयों का सारा पशुधन नष्ट हो गया. आकाशीय बिजली गिरने से जनानंद डोभाल और उनके छोटे भाई की गोशाला में 19 बकरियां और दो भैंसें मारी गईं.

ग्राम प्रधान ने तहसील प्रशासन और आपदा कंट्रोल रूम को इसकी सूचना दी. राजस्व टीम से नायब तहसीलदार और कानूनगो सुबह-सुबह मौके पर पहुंच गए. नायब तहसीलदार बुद्धि सिंह रावत ने 21 जानवरों के मारे जाने की पुष्टि की है.

दोनों डोभाल भाई जानवर पालकर ही अपने परिवार का पालन-पोषण करते थे. उनका कहना था कि उनके रोज़गार का साधन ही छिन गया है. हालांकि आकाशीय बिजली से जानवर की मौत पर आपदा राहत के तहत मुआवज़ा दिया जाता है.



प्रभावितों को मारी गई हर बकरी के लिए 3000 रुपये और मारी गई हर भैंस के लिए 40000 रुपये मुआवज़ा दिए जाने का प्रावधान है.

(नितिन चौहान की रिपोर्ट)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए उत्‍तरकाशी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 6, 2018, 11:27 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर