उत्तराखंड: 133 गांवों में तीन महीने से पैदा हुए 218 बच्चे, पर एक भी लड़की नहीं, CM ने दिए जांच के आदेश

उत्तरकाशी के 133 गांवों में महिलाओं ने 218 बच्चों को जन्म दिया, लेकिन इसमें हैरानी की बात ये रही कि इन बच्चों में एक भी बेटी शामिल नहीं है, जिसके बाद सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने जांच के आदेश दिए हैं.

News18 Uttarakhand
Updated: July 22, 2019, 10:11 AM IST
उत्तराखंड: 133 गांवों में तीन महीने से पैदा हुए 218 बच्चे, पर एक भी लड़की नहीं, CM ने दिए जांच के आदेश
तीन महीने में 133 गांवों में नहीं हुआ एक भी बेटी का जन्म, सीएम ने दिए जांच के आदेश ( सांकेतिक तस्वीर )
News18 Uttarakhand
Updated: July 22, 2019, 10:11 AM IST
उत्तराखंड के उत्तरकाशी में एक हैरतअंगेज मामला सामने आया है, जहां तीन महीने में लगभग 133 गांवों में महिलाओं ने 218 बच्चों को जन्म दिया, जिसमें सभी महिलाओं को 218 बेटे हुए. लेकिन इसमें हैरानी की बात ये रही कि इन बच्चों में एक भी बेटी शामिल नहीं है.

आंकड़ों से स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी भी हैरत में
बच्चियों के घटते लिंगानुपात की उत्तरकाशी जिले की ये तस्वीर ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ समेत तमाम अभियानों पर काली स्याही पोतती दिख रही है. वहीं प्रसव की रिपोर्ट के जरिए सामने आए आंकड़ों से सरकारी महकमे और स्वास्थ्य विभाग के लोग हैरान हो गए. इस मामले में जिला प्रशासन ने जांच के आदेश भी दे दिए हैं.

गानुपात की स्थिति से जिला प्रशासन में मचा हड़कंप बिगड़ते लिंगानुपात की स्थिति से जिला प्रशासन में मचा हड़कंप (सांकेतिक तस्वीर)

कन्या भ्रूण हत्या का जताया जा रहा शक
बता दें कि स्वास्थ विभाग के जरिए जारी किए आंकड़ों के मुताबिक उत्तरकाशी में पिछले तीन महीने के दौरान 133 गांव में करीब 218 बच्चों ने जन्म लिया है. सभी लड़के हैं और इनमें कोई भी बेटी पैदा नहीं होने के कारण कन्या भ्रूण हत्या का शक जताया जा रहा है. सरकारी रिपोर्ट में ही बिगड़ते लिंगानुपात की यह स्थिति सामने आने से जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया है.

तीन महीने में 133 गांवों में नहीं हुआ एक भी बेटी का जन्म, सीएम ने दिए जांच के आदेश
तीन महीने में 133 गांवों में नहीं हुआ एक भी बेटी का जन्म, सीएम ने दिए जांच के आदेश (सांकेतिक तस्वीर)

Loading...

सीएम ने दिए जांच के आदेश
इस मामले की गंभीरता को देखते हुए स्वास्थ्य महकमे और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने जांच के आदेश दिए हैं.सरकारी आंकड़ों में इस भयावह स्थिति का खुलासा होने पर हरकत में आए सीएम सिंह रावत ने भी माना कि इस मामले की गहनता से जांच की जाएगी और यह भी आश्वसन दिया कि अगर इस मामले में किसी भी तरह की लापरवाही या आपराधिक गतिविधि पाई जाती है तो आरोपी के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी.

यह भी पढ़ें- उत्तरकाशी में बच्ची के बलात्कार, हत्या के आरोप में स्थानीय मज़दूर गिरफ़्तार

जानिए क्यों, यहां के बच्चे सात साल से पांचवीं कक्षा से आगे पढ़ नहीं पाते हैं

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए उत्‍तरकाशी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 21, 2019, 11:58 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...