लाइव टीवी

पंचायत चुनाव : मूलभूत सुविधाओं पर फोकस करने वाला 'पंचायत प्रधान' सफल माना जाएगा- मतदाता

Jagmohan Singh Chauhan | News18 Uttarakhand
Updated: October 16, 2019, 5:28 PM IST
पंचायत चुनाव : मूलभूत सुविधाओं पर फोकस करने वाला 'पंचायत प्रधान' सफल माना जाएगा- मतदाता
ठंड और आपदा के बाद भी ग्रामीण इलाकों में छोटी सरकार चुनने के लिए मतदाताओं में काफी उत्साह दिख रहा है.

उत्तरकाशी जिले के विकासखंड मोरी में कुल 71 पोलिंग स्टेशन बनाए गए हैं, जिनमें कुल 27 हजार 824 मतदाता हैं. यहां जिला पंचायत की कुल 4 सीटें है. पुरोला में 48 मतदान केंद्र बनाए गए हैं. यहां 19 हजार 548 मतदाता हैं.

  • Share this:
उत्तरकाशी. त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव (Panchayat Election) के तीसरे और अंतिम चरण की मतदान प्रक्रिया जारी है. मोरी ब्लॉक के आपदा प्रभावित क्षेत्र (Disaster Affected Area) आराकोट बंगाण क्षेत्र में भी 27 हजार मतदाता (Voters) आज शाम 5 बजे तक मतदान करेंगे. आपदा के बाद इस क्षेत्र के दूरस्थ इलाकों में आराकोट ,टिकोची, किराणु, माकुड़ी, चिवा और अंतिम गांव मोण्डा में भी मतदान जारी है. हालांकि ठंड होने की वजह से ग्रामीण क्षेत्रों के वोटर सुबह- सुबह कम संख्या में वोट डालने के लिए पोलिंग बूध पर आए, लेकिन फिर दिन चढ़ने और धूप खिलने के बाद लोग घरों से वोटिंग करने को निकल रहे हैं.

उत्तरकाशी (Uttarkashi) जिले के विकासखंड मोरी में कुल 71 पोलिंग स्टेशन बनाए गए हैं, जिनमें कुल 27 हजार 824 मतदाता हैं. यहां जिला पंचायत की कुल 4 सीटें है. पुरोला में 48 मतदान केंद्र (Polling Booth) बनाए गए हैं. यहां 19 हजार 548 मतदाता हैं. जिले के सभी पोलिंग बूथों पर मतदान शांतिपूर्वक चल रहा है. ठंड और आपदा के बाद भी ग्रामीण इलाकों में छोटी सरकार चुनने के लिए मतदाताओं में काफी उत्साह दिख रहा है.

ठंड और आपदा के बाद भी ग्रामीण इलाकों में छोटी सरकार चुनने के लिए मतदाताओं में काफी उत्साह दिख रहा है.


स्वास्थ्य, शिक्षा, बिजली और पानी पर फोकस करें प्रधान

सुबह 10 बजे तक आपदा प्रभावित क्षेत्र में जहां मतदान का प्रतिशत 14.14 था वहीं परोला में 10 बजे तक 15.57 प्रतिशत मतदान हुआ था. वोट देने आई एक ग्रामीण महिला मतदाता ने कहा कि यहां बहुत सारी आपदाएं हुई हैं. उन्होंने कहा कि अगर हमारा प्रधान काम के प्रति समर्पित होगा तो विकास होगा. प्रगति ही मुख्य चीज है. एक अन्य मतदाता ने कहा कि वह बदलाव चाहते हैं. उन्होंने नया प्रधान चुने जाने की तरफदारी की. उन्होंने साफ-साफ कहा कि नए लोगों को मौका मिलना चाहिए. वहीं एक अन्य मतदाता ने कहा कि जो भी पंचायत प्रधान बने उन्हें स्वास्थ्य, शिक्षा, बिजली और पानी पर फोकस करना चाहिए. उन्होंने कहा कि इन चार चीजों पर काम करने वाले प्रधान को सफल माना जाएगा.



ये भी पढ़ें - अवैध शराब बनाने की फैक्ट्री का भंडाफोड़, 148 पेटी के साथ दो आरोपी गिरफ्तार
Loading...

ये भी पढ़ें - छात्रवृत्ति घोटाले में समाज कल्याण विभाग के 3 अफ़सर न्यायिक हिरासत में

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए उत्‍तरकाशी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 16, 2019, 2:09 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...