दयारा बुग्याल को मिला ट्रैक ऑफ द ईयर-2015

दस हजार फीट की ऊंचाई पर स्थित दयारा बुग्याल को उत्तराखंड सरकार ने ट्रैक ऑफ द ईयर-2015 घोषित किया है. उत्तरकाशी जिला मुख्यालय से करीब 35 किलोमीटर दूर स्थित हैं ये दो गांव- बार्सू और रैथल गांव. दोनों गांव दयारा बुग्याल के बेस कैंप के रुप में पहचान रखते हैं.

Sunil Navprabhat | ETV UP/Uttarakhand
Updated: May 20, 2015, 9:38 AM IST
दयारा बुग्याल को मिला ट्रैक ऑफ द ईयर-2015
दस हजार फीट की ऊंचाई पर स्थित दयारा बुग्याल को उत्तराखंड सरकार ने ट्रैक ऑफ द ईयर-2015 घोषित किया है. उत्तरकाशी जिला मुख्यालय से करीब 35 किलोमीटर दूर स्थित हैं ये दो गांव- बार्सू और रैथल गांव. दोनों गांव दयारा बुग्याल के बेस कैंप के रुप में पहचान रखते हैं.
Sunil Navprabhat
Sunil Navprabhat | ETV UP/Uttarakhand
Updated: May 20, 2015, 9:38 AM IST
दस हजार फीट की ऊंचाई पर स्थित दयारा बुग्याल को उत्तराखंड सरकार ने ट्रैक ऑफ द ईयर-2015 घोषित किया है. उत्तरकाशी जिला मुख्यालय से करीब 35 किलोमीटर दूर स्थित हैं ये दो गांव- बार्सू और रैथल गांव. दोनों गांव दयारा बुग्याल के बेस कैंप के रुप में पहचान रखते हैं.

यहां से आठ किलोमीटर की पैदल ट्रैक के बाद पड़ता है दयारा बुग्याल. 28 वर्ग किलोमीटर में फैले दयारा के मखमली घास के मैदान हर किसी को सम्मोहित कर देते हैं. दयारा की बेहतरीन ढलानें शीतकाल में स्की प्रेमियों की पहली पसंद हैं, लेकिन प्रचार-प्रसार के अभाव में दयारा का दशकों बाद भी अपेक्षित विकास नहीं हो पाया.

दयारा में वर्षों से रोपवे परियोजना लंबित पड़ी हुई हैं. इस बार उत्तराखंड सरकार दवारा दयारा को ट्रैक ऑफ द ईयर-2015 घोषित किए जाने के बाद पर्यटन व्यवसायियों में खुशी की लहर है. इसके तहत बड़े पैमाने पर दयारा ट्रैक का प्रचार-प्रसार किया जाएगा. साथ ही किफायती दरों पर सरकार यहां ट्रैकिंग ग्रुपों, पर्यटकों को प्रोत्साहित करेगी.

आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर