Assembly Banner 2021

बाबा रामदेव के समर्थकों के लिए खुशखबरी, अब 'योग गुरु' के बारे में जान सकेंगे सबकुछ

बाबा रामदेव की आत्‍मकथा का नाम 'माई लाइफ, माई मिशन' है. (फाइल फोटो)

बाबा रामदेव की आत्‍मकथा का नाम 'माई लाइफ, माई मिशन' है. (फाइल फोटो)

योग गुरु बाबा रामदेव की आत्मकथा का नाम 'माई लाइफ, माई मिशन' है. इसमें उनके जीवन के साथ-साथ पतंजलि ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस के मल्टी बिलियन कॉरपोरेशन बनने के सफरनामा पर भी खुलासा होगा.

  • Share this:
योग गुरु बाबा रामदेव ने 5वें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर शुक्रवार को अपनी पहली ऑफिशियल आत्मकथा 'माई लाइफ, माई मिशन' की घोषणा की है. बाबा रामदेव ने अपनी इस किताब की घोषणा महाराष्ट्र के नांदेड में हजारों लोगों के सामने की. जबकि इस मौके पर महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस भी मौजूद थे. यही नहीं, इस किताब की प्री बुकिंग भी शुरू हो गई और मुख्‍यमंत्री फडणवीस ने सबसे पहले 100 किताबों का ऑर्डर दिया है.

अपनी आत्‍मकथा की खबर को ट्विटर पर साझा करते हुए बाबा रामदेव ने कहा,'अन्य लोगों द्वारा उन पर बहुत कुछ लिखा जा चुका है, अब वह अपने जीवन की कथा अपने शब्दों में कहेंगे.'





इस कारण खास होगी अगस्‍त में आने वाली ये किताब
'माई लाइफ, माई मिशन' में योग गुरु रामदेव के जीवन से जुड़े निजी प्रसंग होंगे. बाबा के प्रसंगों को आत्‍मकथा के सह-लेखक वरिष्ठ पत्रकार उदय माहुरकर ने पिरोया है. इसे प्रकाशक पेंगुइन इसी साल अगस्त में जारी करेगा.

प्रकाशक पेंगुइन ने कही ये बात
'माई लाइफ, माई मिशन' के प्रकाशक पेंगुइन ने कहा, 'यह आत्मकथा उनके जीवन की परीक्षा, संघर्ष और विजय को उजागर करती है.यही नहीं, यह उनके बचपन, योग के लिए उनके जुनून व अच्छे स्वास्थ्य, उनके दोस्तों-दुश्मनों व उनकी अगुवाई में किए स्वदेशी अभियान को बयान करती है.'

मिलेगी 12,000 के कारोबार की गाथा
बाबा रामदेव के जीवन के अलावा इस किताब में उनकी संस्‍था पतंजलि ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस के मल्टी बिलियन कॉरपोरेशन बनने के सफरनामा पर भी खुलासा होगा. आपको बता दें कि पतंजलि ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस को भारत में तेज खपत उपभोक्ता वस्तुएं (एफएमसीजी) की तेजी से विकसित होती कंपनी माना जाता है और इसका कारोबार करीब 12,000 करोड़ रुपये का है.

ये भी पढ़ें-
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज