प्रबंधक नहीं चुका पाया उधार तो बदमाशों ने रची डायनामाइट से स्कूल उड़ाने की साजिश

ब्लास्ट कर उड़ाई स्कूल की दीवार

ब्लास्ट कर उड़ाई स्कूल की दीवार

स्कूल के प्रबंधक ने कर्ज नहीं चुकाया तो दो शातिर अपराधियों, वशीम अहमद और साहिल खां ने अपने साथियों के साथ मिलकर प्रबंधक समेत स्कूल को उड़ाने की साजिश रच डाली.

  • Share this:

यूपी के गोंडा में ब्राइट फ्यूचर स्कूल में हुए विस्फोट कांड का 14 दिन बाद पुलिस ने खुलासा कर दिया है. पुलिस ने बताया कि स्कूल के प्रबंधक ने कर्ज नहीं चुकाया तो दो शातिर अपराधियों, वशीम अहमद और साहिल खां ने अपने साथियों के साथ मिलकर प्रबंधक समेत स्कूल को उड़ाने की साजिश रच डाली. डायनामाइट लगाकर डेटोनेटर और जिलेटिन राड की मदद से दो बदमशों ने स्कूल के टायलेट की दीवार उड़ा दी और फरार हो गए. पुलिस ने मिर्जापुर और वाराणसी जिले के इन दोनों अभियुक्तों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

दरअसल खोंडारे थाना क्षेत्र के बनगांव में बीते 21 जुलाई को ब्राइट फ्यूचर पब्लिक स्कूल में विस्फोट हुआ था और मामले की जांच तमाम इंटेलीजेंस एजेंसियों के अलावा एनआईए और एटीएस भी कर रही थीं. इस मामले का अब पुलिस ने खुलासा कर दिया. वहीं विस्फोट की घटना में शामिल दो आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. पुलिस के मुताबिक स्कूल के प्रबंधक शमशेर अहमद से उनकी दोस्ती थी और इसी दोस्ती मे प्रबंधक ने आरोपियों से 2.50 करोड़ रुपये का कर्ज लेने रखा था लेकिन वह कर्ज चुकाने वो में आनाकानी कर रहा था.

कर्ज चुकाने में हीलाहवाली करने पर आरोपियों ने बम विस्फोट के जरिए प्रबंधक की हत्या कर पूरे स्कूल को उड़ा देने की साजिश रची थी.  शनिवार को पुलिस अधीक्षक राजकरन नैय्यर ने पकड़े गए आरोपियों को मीडिया से सामने पेश कर खुलासा कर दिया. वहीं एसपी ने बताया कि इस घटना में शामिल अन्य आरोपियों की धरपकड़ के लिए पुलिस टीम लगाई गई है. पुलिस टीम ने आरोपियों को बस्ती सीमा पर घेराबंदी कर मकोइया मोड़ से गिरफ्तार कर लिया. पकड़े गए आरोपियों के पास से पुलिस ने दो तमंचा व चार कारतूस बरामद किया है.

(देवमणि त्रिवाठी की रिपोर्ट)
ये भी पढ़ें: 



BMW से जा रहे प्रॉपर्टी डीलर को बदमाशों ने मारी 6 गोली

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज