Home /News /world /

चीन ने पाकिस्तान को दी एडवांस वॉरशिप, सतह से सतह और हवा में भी कर सकती है हमला: रिपोर्ट

चीन ने पाकिस्तान को दी एडवांस वॉरशिप, सतह से सतह और हवा में भी कर सकती है हमला: रिपोर्ट

चीन द्वारा पाकिस्तान को दी गई वॉरशिप (तस्वीर- ग्लोबल टाइम्स)

चीन द्वारा पाकिस्तान को दी गई वॉरशिप (तस्वीर- ग्लोबल टाइम्स)

China Pakistan Warship: पाकिस्तानी नौसेना (Paksitan Navy) ने बयान में कहा है कि टाइप 054A/P फ्रिगेट एक साथ कई नौसैनिक युद्ध अभियानों को अंजाम दे सकता है. वहीं इस वॉरशिप की निर्माता कंपनी CSSC ने कहा कि फ्रिगेट चीन द्वारा अब तक निर्यात किया गया सबसे बड़ा और सबसे एडवांस वारशिप है. सोमवार को ग्लोबल टाइम्स को पाकिस्तान नेवी द्वारा भेजे गए एक बयान के मुताबिक टाइप 054ए/पी फ्रिगेट को पीएनएस तुगरिल नाम दिया गया है.

अधिक पढ़ें ...

    बीजिंग. चीन और पाकिस्तान (China Pakistan) की दोस्ती किसी से छिपी नहीं है. एक ओर जहां चीन ने पाकिस्तान में भारी निवेश कर उसे अपना कर्जदार बना लिया है तो वहीं दूसरी ओर वह भारत के पड़ोसी मुल्क के आतंकियों को सजा दिलवाने में भी रोड़े अटकाता रहता है. चीन और पाकिस्तान की दोस्ती का एक और उदाहरण अब सामने आया है. चीन की सरकारी मीडिया ने दावा किया है कि बीजिंग ने पाकिस्तान को सबसे एडवांस वॉरशिप दी है. चीन स्टेट शिप बिल्डिंग कॉरपोरेशन लिमिटेड (CSSCL) द्वारा निर्मित वॉरशिप पाकिस्तान को शंघाई में दी गई. सोमवार को ग्लोबल टाइम्स को पाकिस्तान नेवी द्वारा भेजे गए एक बयान के मुताबिक टाइप 054ए/पी फ्रिगेट को पीएनएस तुगरिल नाम दिया गया है.

    पाकिस्तान नौसेना ने कहा कि पीएनएस तुगरिल चार प्रकार के युद्धपोतों का पहला जहाज है जिसका निर्माण पाकिस्तानी नौसेना के लिए किया गया है. जहाज में तगड़े सर्विलांस के साथ-साथ जमीन से जमीन, जमीन से हवा और पानी के नीचे की मारक क्षमता है. यह जहाज तकनीकी रूप से बहुत एडवांस है. यह जहाज इलेक्ट्रॉनिक वारफेयर सिस्टम से लैस है.

    पाकिस्तानी नौसेना ने बयान में कहा है कि टाइप 054A/P फ्रिगेट एक साथ कई नौसैनिक युद्ध अभियानों को अंजाम दे सकता है. CSSC ने कहा कि फ्रिगेट चीन द्वारा अब तक निर्यात किया गया सबसे बड़ा और सबसे एडवांस वारशिप है.

    चीन में पाकिस्तान के राजदूत ने कही यह बात
    वारशिप के पाकिस्तानी नौसेना में शामिल होने पर पर चीन में पाकिस्तान के राजदूत मोइन उल-हक ने एक  विज्ञप्ति में कहा कि यह युद्धपोत समुद्री चुनौतियों का जवाब देने, समुद्री रक्षा सुनिश्चित करने और शांति और क्षेत्रीय संतुलन को बनाए रखने के लिए पाकिस्तान को मजबूत करेगा.

    उल-हक ने कोविड -19 महामारी के बीच फ्रिगेट की समय पर डिलीवरी सुनिश्चित करने के लिए चाइना स्टेट शिपबिल्डिंग कॉरपोरेशन, चाइना शिपबिल्डिंग ट्रेडिंग कंपनी, चाइना शिप डेवलपमेंट एंड डिज़ाइन सेंटर और हुडोंग झोंगहुआ शिपबिल्डिंग, साथ ही चीनी पीपुल्स लिबरेशन आर्मी नेवी की भी प्रशंसा की. बता दें  पाकिस्तान तुर्की से छोटे कोरवेट और चीन से आठ डीजल-इलेक्ट्रिक पनडुब्बियां भी खरीद रहा है.

    Tags: China, India, Pakistan, World news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर