पाकिस्तान में हिंदू लड़की को जबरन शराब पिलाकर किया गैंगरेप, पाकिस्तानी मीडिया में छाई खबर

यह घटना पाकिस्तान के ‌सिंध प्रांत की है. यहां काफी संख्या में हिंदू रहते हैं. पीड़िता की उम्र 13 साल है. मामले में दो की गिरफ्तारी हुई है.

News18Hindi
Updated: June 9, 2019, 2:04 PM IST
पाकिस्तान में हिंदू लड़की को जबरन शराब पिलाकर किया गैंगरेप, पाकिस्तानी मीडिया में छाई खबर
आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और साथिन बनेंगी रेप पीड़िताओं का सहारा।
News18Hindi
Updated: June 9, 2019, 2:04 PM IST
पाकिस्तान के सिंध प्रांत में 13 वर्षीय एक हिंदू किशोरी के साथ कथित तौर पर दुष्कर्म का मामला सामने आया है. किशोरी को शराब पीने को मजबूर करके दो लोगों ने उसके साथ दुष्कर्म किया. पाकिस्तानी अखबार डॉन की खबर के अनुसार यह वारदात सात जून को तांडो मोहम्मद खान जिले में उस समय हुई जब पीड़िता कुछ सामान खरीदने जा रही थी.

तभी दो लोगों ने उसे अपने पास बुलाकर शराब पीने को मजबूर किया और उससे दुष्कर्म किया. अखबार ने पीड़िता के पिता को यह कहते हुए उद्धृत किया कि किशोरी के घर नहीं लौटने पर उसके पिता और भाई उसकी तलाश में गए. बाद में किशोरी अचेत अवस्था में एक चीनी मिल के निकट एक स्थानीय मैदान में में मिली.



पीड़ित के पिता ने बताया, ‘‘हमने उसे चीनी मिल के निकट एक मैदान में पाया. उसकी हालत खराब थी. हम उसे एक अस्पताल में ले गए और इसकी सूचना पुलिस को दी.’’ प्राथमिक जांच के बाद पुलिस ने दो आरोपियों को इस मामले में गिरफ्तार किया है.

एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर मकबूल मल्लाह को यह कहते हुए उद्धृत किया, ‘‘हिंदू लड़की की चिकित्सा जांच में दुष्कर्म का पता चला है और और अंतिम रिपोर्ट के लिए सबूत को प्रयोगशाला में भेजा जा रहा है.’’

होली के वक्त भी हिंदू लड़कियों को लेकर हुआ था बड़ा विवाद
पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक होली के बाद एक वीडियो वायरल हुई थी. जिसके बाद हिंदू नेता शिव मुखी मेघवार ने आरोप लगाया था कि लड़कियों की इच्छा नहीं थी, उनका अपहरण हुआ है और जबरन धर्म परिवर्तन कराया गया है. पाकिस्तान हिंदू सेवा वेलफेयर ट्रस्ट के अध्यक्ष संजेश धनजा ने भी भारतीय मीडिया को बयान दिया था कि दो बहनों रीना और रवीना का अपहरण करने के बाद शादी करके उनका जबरन धर्म परिवर्तन करा दिया गया है.


Loading...

इसके अलावा पाकिस्तानी मानवाधिकार कार्यकर्ता जिबरान नासिर ने भी ट्विटर पर दोनों बहनों के पिता का एक वीडियो शेयर की और इस घटना को शर्मनाक बताया था. इस वीडियों में एक बुज़ुर्ग पिता ख़ुद को थप्पड़ मारते हुए मांग कर रहा था कि या तो मेरी बेटियों को सुरक्षित वापस ला दो या मुझे गोली मार दो. आरोप था कि दो नाबालिग बहनों का होली के दिन कोहबर और मलिक जनजाति के लोगों ने अपहरण कर लिया. हालांकि इस घटना के बाद सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो गया जिसमें दो लड़कियां इस्लाम अपनाने का दावा करती हुई कह रही हैं कि हमने अपनी मर्जी से इस्लाम को अपनाया है.

पाकिस्तान में दर्ज हुई थी FIR, कोर्ट में हुई थी सुनवाई
इस मामले में पाकिस्तान के क़ानून की धारा 365 बी (अपहरण, जबरन शादी के लिए महिला का अपहरण), 395 (डकैती के लिए सज़ा), 452 (चोट पहुंचाने, मारपीट, अनधिकृत रूप से दबाने के उद्देश्य से घर में अनाधिकार प्रवेश) के तहत साथ लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था. आरोपियों में लड़कों के घरवालों का नाम शामिल था. FIR के मुताबिक बरकत मलिक और हुज़ूर अली कोबहर के साथ सलमान दास और हरि दास मेघवार की कहासुनी हो गई थी. इसके बाद आरोपी छह अन्य लोगों के साथ उनके घर में घुस आए और उनकी दो नाबालिग लड़कियों समेत चार तोला सोना और 75 हज़ार रुपये नक़दी चुरा ले गए.

सुषमा और फवाद खान आए थे आमने-सामने
वीडियो वायरल होने के बाद भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भी ट्विटर पर लिखा, 'मैंने पाकिस्तान में भारतीय उच्चायुक्त से इस पर एक रिपोर्ट भेजने के लिए कहा है.' इस पर पाकिस्तान के सूचना मंत्री चौधरी फ़वाद हुसैन ने भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को लिखा कि यह पाकिस्तान का आंतरिक मामला है और हमारे लिए अल्पसंख्यक भी उतने ही अनमोल हैं. इस मसले पर भारत में सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज मार्कंडेय काटजू ने भी ट्वीट कर इस वारदात को शर्मनाक बताते हुए प्रधानमंत्री इमरान ख़ान से पूछा था कि आपका 'नया पाकिस्तान' कहां है?

फ़वाद चौधरी ने ट्विटर पर सुषमा को जवाब देते हुए लिखा था, 'यह पाकिस्तान का आंतरिक मामला है और मैं आपको यह आश्वस्त करना चाहता हूं कि यह मोदी का इंडिया का नहीं है जहां अल्पसंख्यकों को तबाह किया जाता है, यह इमरान ख़ान का नया पाकिस्तान है जहां हमारे झंडे का सफ़ेद रंग भी उतनी ही क़ीमती हैं. उम्मीद करता हूं कि जब वहां अल्पसंख्यकों के अधिकार की बात आएगी तो आप भी उतनी ही तत्परता से कार्रवाई करेंगी.'

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...