लाइव टीवी
Elec-widget

साथ पढ़ने वाले लड़के ने छाती में घोंपा था चाकू, बिना किसी को बताए सो गई लड़की और फिर...

News18Hindi
Updated: November 12, 2019, 7:00 PM IST
साथ पढ़ने वाले लड़के ने छाती में घोंपा था चाकू, बिना किसी को बताए सो गई लड़की और फिर...
15 साल की इस स्कूली छात्रा की उसी के साथ पढ़ने वाले स्टूडेंट ने हत्या कर दी.

यह छात्रा गहरे जख्म के बावजूद किसी तरह अपने घर पहुंची. इसके बाद वह बिना अपने माता-पिता को इस घाव की जानकारी दिए सीधे अपने कमरे में सोने के लिए चली गई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 12, 2019, 7:00 PM IST
  • Share this:
येकातेरिनबर्ग. रूस (Russia) में एक 15 साल की स्कूली छात्रा की उसी की क्लास में पढ़ने वाले एक छात्र ने छुरा घोंप दिया. लड़की बिना अपने माता-पिता को इसकी जानकारी दिए अपने कमरे में जाकर सो गई सुबह तक उसकी मौत हो चुकी थी.

रूसी के दक्षिण-पश्चिमी क्षेत्र सेवरडलोव्स्क ओब्लास्ट (Sverdlovsk Oblast) के येकातेरिनबर्ग (Yekaterinburg) शहर में एलिज़ाबेथ किंड्सफेटर नाम की इस छात्रा पर उसके सहपाठी ने इसलिए हमला कर दिया क्योंकि एलिज़ाबेथ ने उसकी बेइज्जती कर दी थी. स्थानीय मीडिया के मुताबिक तीन दोस्तों के बीच ये झगड़ा शुरू हुआ जिसमें एक लड़के ने लड़की की छाती पर चाकू भोंक दिया.

घर पर किसी को नहीं दी जानकारी
डेली स्टार की खबर के मुताबिक एलिज़ाबेथ गहरे जख्म के बावजूद किसी तरह अपने घर पहुंची. इसके बाद वह बिना अपने माता-पिता को इस घाव की जानकारी दिए सीधे अपने कमरे में सोने के लिए चली गई.

सुबह तक उसकी हालत इतनी खराब हो चुकी थी कि जब उसे अस्पताल ले जाया गया तो डॉक्टर भी उसकी जान नहीं बचा सके. पुलिस ने 16 साल के लड़के को गिरफ्तार कर लिया है. लड़के पर आरोप है कि उसने धारदार ब्लेड से लड़की पर वार किया.

Russia
एलिज़ाबेथ किंड्सफेटर की फाइल फोटो


पुलिस के एक प्रवक्ता ने कहा कि हमारा मानना है कि लड़की के लड़के की बेइज्जती करने के चलते आरोपी ने उसकी हत्या कर दी. फिलहाल इस मामले की जांच की जा रही है.
Loading...

पिछले हफ्ते एक युवक को हुई 12 साल की सज़ा
पिछले हफ्ते एक 18 साल के लड़के को अपनी एक्स-गर्लफ्रेंड की निर्मम हत्या करने के मामले में जेल की सजा हुई है. थॉमस ग्रिफिथ नाम के इस लड़के को इसी साल मई में केल्ने, विल्टशायर में 17 साल की ऐली गोल्ड की निर्मम हत्या के चलते न्यूनतम 12 साल और छह महीने की सजा सुनाई गई थी.

ऐली और ग्रिफ़िथ दोनों विल्ट्स के चिपेनहैम के हार्डेनहिश स्कूल में के छात्र थे, और अपनी मॉक परीक्षा की तैयारी कर रहे थे. ऐली के पिता ने पाया कि उनकी बेटी खून से लथपथ एक पूल में पड़ी हुई थी, जिसकी गर्दन से चाकू लगा हुआ था.

अदालत को बताया गया कि ऐली ने अपनी पढ़ाई पर ध्यान केंद्रित करने और घुड़सवारी सहित अपने शौक को पूरा करने के लिए 2 मई को रिश्ते को खत्म करने का फैसला किया.

ये भी पढ़ें-
रितिक रोशन को पसंद करती थी पत्नी तो पति ने कर दिया मर्डर, फिर कर ली आत्महत्या

90 रुपये में खरीदा था फूलदान, साढ़े चार करोड़ में बिका

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 12, 2019, 6:58 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...