ब्रिटेन में एक साल के अंदर जा सकती 22 लाख लोगों की नौकरियां

ब्रिटेन में एक साल के अंदर जा सकती 22 लाख लोगों की नौकरियां
ब्रिटेन में 22 लाख लोगों की नौकरियां जा सकती हैं. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

न्यू इकोनॉमिक्स फाउंडेशन (New Economics Foundation) के अनुसार अगले साल दिसंबर तक ब्रिटेन में 22 लाख बेरोजगारी (Unemloyment) की चपेट में आ सकते हैं.

  • Share this:
लंदन. न्यू इकोनॉमिक्स फाउंडेशन (New Economics Foundation) के अनुसार अगले साल दिसंबर तक ब्रिटेन में 22 लाख बेरोजगारी (Unemloyment) की चपेट में आ सकते हैं. एनईएफ के विशेषज्ञों का मानना है कि अगर सरकार रोजगार सृजन ​की दिशा में काम नहीं करती है तो लोग बड़े पैमान पर बेरोजगार हो सकते हैं. एनईएफ ने नेग्रीन प्रोजेक्ट में 28 अरब पाउंड निवेश करने के लिए गुहार लगाई है. एनईएफ के अनुसार इन परियोजनाओं से लगभग 4 लाख पूर्णकालिक नौकरियां पैदा की जा सकेंगी. अध्ययन के अनुसार पूर्णकालिक नौकरियों के अतिरिक्त कई क्षेत्रों में बड़े पैमाने पर अन्य नौकरियां पैदा की जा सकती हैं.

ये भी पढ़ें: 7 लाख भारतीयों की नौकरी पर संकट, कुवैत में बना विदेशी श्रमिकों को कम करने का कानून

यहां कई महीनों बाद खोले गए रेड लाइट एरिया, Kissing पर लगी है रोक



बच्चों के रेप की वीडियो बेचने वाला गिरफ्तार, अमेरिका में भी चल रहा है मुकदमा
जानिए क्यों, ब्रिटेन में इस साल हो सकती है 35,000 कैंसर मरीजों की मौत

एनईएफ के अर्थशास्त्री लुकाज़ क्रेबेल ने कहा कि यूके की अर्थव्यवस्था खुद ही खुद सही अवस्था में सुधान नहीं हो पाएगा. उन्होंने यह भी कहा कि 2021 के क्रिसमस तक पिछले साल दिसंबर की तुलना में लगभग दस लाख से अधिक लोग काम से हाथ धो बैठेंगे. विशेषज्ञों का कहना है कि सरकार को अब ऐसे कदम उठाने होंगे जो देश के रूप में हम जिन समस्याओं का सामना कर रहे हैं, उन समस्याओं के साथ तालमेल बैठा सके. स्पष्ट है कि सरकार को आगे आने वाले महीनों में तेजी से रोजगार के अवसर पैदा करने होंगे.

कैंसर के इलाज में देरी से समस्याएं

कोरोना महामारी से पूरी दुनिया में अलग अलग समस्याएं पैदा हो रही हैं. ऐसी ही बड़ी समस्याओं में एक है कोरोना के कारण कैंसर मरीजों के इलाज में देरी के कारण होने वाली मृत्यु. विशेषज्ञों का मानना है कि इस साल ब्रिटेन में 35,000 कैंसर रोगियों की मृत्यु हो सकती है. उनका मानना है कि कोरोना महामारी के कारण उनके इलाज में हो रही देरी और मेडिकल सुविधाओं का अभाव है. यह संभावना ब्रिटेन के प्रमुख कैंसर डेटा रिसर्च द्वारा जताई गई है.

18-35 हजार कैंसर मरीजों की मौत का अनुमान

कैंसर के उपचार के आंकड़े एकत्र करने वाले डेटा-कैन ने बताया कि ब्रिटेन में कैंसर से कम से कम 18,000 से अधिक मौते होंगी और सबसे खराब स्थिति में यह आँकड़ा 35,000 के पार भी जा सकता है. ब्रिटेन के अस्पतालों में कैंसर मरीजों के अपॉइंटमेंट्स और उनके इलाज की प्रक्रियाओं को कोरोना को प्राथमिकता देने के कारण लगातार स्थगित किया जा रहा है. सभी अस्पाताल कोरोना संक्रमण से ग्रस्त मरीजों से भरे हुए हैं. अलग अलग किये गए पोल से ये तथ्य सामने आ रहे हैं कि कैंसर के आधे से ज्यादा मरीज कोरोना के संक्रमण के डर से अस्पताल जाने से हिचक रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading