• Home
  • »
  • News
  • »
  • world
  • »
  • यूक्रेन पर चीन किसी का सर्मथन नहीं करेगा: जिनपिंग

यूक्रेन पर चीन किसी का सर्मथन नहीं करेगा: जिनपिंग

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल के साथ एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि यूक्रेन मामले में उनकी सरकार पश्चिमी देशों या रूस किसी का सर्मथन नहीं करेगी।

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल के साथ एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि यूक्रेन मामले में उनकी सरकार पश्चिमी देशों या रूस किसी का सर्मथन नहीं करेगी।

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल के साथ एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि यूक्रेन मामले में उनकी सरकार पश्चिमी देशों या रूस किसी का सर्मथन नहीं करेगी।

  • Share this:
    बर्लिन। चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने कहा कि यूक्रेन मामले में उनकी सरकार पश्चिमी देशों या रूस किसी का सर्मथन नहीं करेगी। राष्ट्रपति का पदभार संभालने के बाद पहली बार जर्मनी की यात्रा पर आए जिनपिंग ने जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल के साथ एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि यूक्रेन के प्रश्न पर चीन कोई निजी विचार नहीं रखता। सभी पक्षों को मिलकर इसका राजनीतिक और कूटनीतिक समाधान ढूंढने की कोशिश करनी चाहिए।

    इस बीच मर्केल ने कहा कि अगर मैं रूस होती तो क्रीमिया में कराए गए जनमत संग्रह पर संयुक्त राष्ट्र में हुए मतदान के दौरान रूस के सर्मथन में प्राप्त हुए मतों से कभी भी संतुष्ट नहीं होती। हालांकि जर्मनी का रूस के साथ काफी मजबूत व्यापारिक संबंध हैं। इस संकट के समाधान हेतु रूस के राष्ट्रपति ब्लादिमिर पुतिन पर अपने प्रभावों का इस्तेमाल करने के उद्देश्य से उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र का मतदान यूक्रेन में रूस के कृत्यों से अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के खुश नहीं होने का संकेत है।

    क्रीमिया मामले पर रूस की स्थिति को समझने का संकेत देते हुए चीन ने कहा कि यूक्रेन में जो कुछ हुआ उसके अपने ऐतिहासिक कारण है। इसके साथ ही चीन की सरकारी मीडिया ने भी रूस के साथ सहानुभूति जताई है। लेकिन चीन के विदेश मंत्रालय ने इस सप्ताह कहा था कि चीन यूक्रेन के साथ मैत्रीपूर्ण संबंध विकसित करना चाहता है। यूक्रेन को वित्तीय मदद मुहैया कराने में अंतर्राष्ट्रीय समुदाय की पहल में चीन की रचनात्मक भूमिका होगी। जिनपिंग ने कहा कि यूक्रेन संकट के शांतिपूर्ण समाधान में अंतर्राष्ट्रीय जगत की पहल को चीन का पूरा सर्मथन प्राप्त होगा। चीन ने हमेशा ही अंतर्राष्ट्रीय संबंध के सिद्धांत के साथ ही दूसरे राज्यों में अहस्तक्षेप की नीति का सम्मान किया है।

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज