• Home
  • »
  • News
  • »
  • world
  • »
  • MH17 त्रासदी: आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी

MH17 त्रासदी: आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी

मलेशियाई विमान को मार गिराने को लेकर यूक्रेन के सरकारी बल और प्रतिपक्षी मिलीशिया के बीच आज भी आरोप-प्रत्यारोप जारी रहा।

मलेशियाई विमान को मार गिराने को लेकर यूक्रेन के सरकारी बल और प्रतिपक्षी मिलीशिया के बीच आज भी आरोप-प्रत्यारोप जारी रहा।

मलेशियाई विमान को मार गिराने को लेकर यूक्रेन के सरकारी बल और प्रतिपक्षी मिलीशिया के बीच आज भी आरोप-प्रत्यारोप जारी रहा।

  • Share this:
    दोनेत्स्क। मलेशियाई विमान को मार गिराने को लेकर यूक्रेन के सरकारी बल और प्रतिपक्षी मिलीशिया के बीच आज भी आरोप-प्रत्यारोप जारी रहा। दोनों एक दूसरे पर 298 लोगों की मौत का सबब बनने वाला प्रक्षेपास्त्र दागने का आरोप लगा रहे हैं। शुक्रवार को दुर्घटनास्थल का दौरा करने के लिए जाते समय दोनेत्स्क के टैक्सी चालक ने कहा है कि हम शाखतिरोस्क की तरफ कतई यात्रा नहीं कर सकते। क्योंकि जैसे ही अंधेरा घिरता है वे कारों को निशाना बनाते हैं। इसके अलावा विमान तल पर युद्ध छिड़ा हुआ है।

    शहर स्वयंभू दोनेत्स्क पीपुल्स रिपब्लिक का केंद्र है। इस संगठन की स्थापना मुख्य रूप से रूसी मूल के मिलीशिया ने की है और वे यूक्रेन की सरकार के खिलाफ हैं। दोनेत्स्क मिलीशिया के लड़ाके दुर्घटनाग्रस्त मलेशिया एअरलाइंस के बोईंग 777 के चारों ओर पहरा दे रहे हैं और उन्होंने केवल यूरोप में सुरक्षा एवं सहयोग के लिए संगठन के पर्यवेक्षकों को ही वहां तक जाने की अनुमति दी है।

    लेकिन मिलीशिया के लोगों ने कीव के साथ दुर्घटना की अंतर्राष्ट्रीय जांच के लिए संघर्ष विराम की शर्तो को स्वीकार नहीं किया है। दोनेत्स्क में लोग जगह-जगह जमा होकर यह सवाल उठा रहे हैं कि आखिर जेटलाइनर को किसने मार गिराया। दोनेत्स्क पीपुल्स रिपब्लिक के एक समर्थक व्लादिमीर ने कहा है कि विद्रोही तो ऐसा कर नहीं सकते। आखिर क्यों? यह भड़काऊ काम सुरक्षा बलों ने किया होगा। कुछ दूसरे लोगों का कहना है कि बोईंग 777 को यूक्रेन सेना का मालवाहक समझ मिलीशिया ने मार गिराया होगा।

    सड़क पर अपने बेटे के साथ टहल रहे एक व्यक्ति ने कहा है कि हम युद्ध के खतरे का सामना कर रहे हैं। कई लोग पलायन कर गए हैं। वे और ज्यादा नहीं रुक सकते। इस बीच आपदाकर्मी इलाके के कोयला खान मजदूरों के साथ विमान के मलबे से और शवों की तलाश में जुटे हैं। भारी वर्षा और इस संदेह के बीच कि विमान का ब्लैक बॉक्स या विमान डाटा रिकार्डर मिला है या नहीं अभी तक 181 शवों की तलाश की जा चुकी है।

    यूक्रेन के राष्ट्रपति पेट्रो पोरोशेन्को ने शुक्रवार को कहा है कि विमान को मार गिराने की घटना के पीछे अंतर्राष्ट्रीय आतंकवाद है। कीव सरकार ने चालाकी से मिलीशिया को आतंकवादी करार दे दिया। कीव सरकार को समर्थन दे रहे अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा है कि रूस, रूस समर्थक अलगाववादी और यूक्रेन तुरंत ही संघर्ष विराम करें। ताकि अंतर्राष्ट्रीय जांच हो सके।

    यूक्रेन और मिलीशिया दोनों के ही पास प्रक्षेपास्त्र हैं और वे इससे 10,000 मीटर की ऊंचाई पर उड़ने वाले विमान को मार गिरा सकने की क्षमता रखते हैं। इस बात के संकेत हैं कि यूक्रेन की सेना की कम से कम एक मिसाइल बैटरी विद्रोहियों के हाथ लग चुकी है। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने यूक्रेन की सेना पर सीधे-सीधे आरोप तो नहीं लगाया, लेकिन यह कहा कि इस घटना की अंतिम जिम्मेदारी यूक्रेन की सरकार की बनती है। उन्होंने कहा था नि:संदेह जिसके क्षेत्र से विमान उड़ान भर रहा था वह देश इस दर्दनाक हादसे का जिम्मेदार है।


    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज