बांग्लादेश में नौका डूबने से 32 लोगों की मौत, कई लापता

बांग्लादेश में नौका डूबने से 32 लोगों की हुई मौत (फाइल फोटो)
बांग्लादेश में नौका डूबने से 32 लोगों की हुई मौत (फाइल फोटो)

बांग्लादेश के कई शिपयार्ड में खराब सुरक्षा मानकों के कारण नौका दुर्घटनाएं होती है. वहीं ये नौकाएं भी क्षमता से ज्यादा लोगों को सवार कर लेती है और फिर खराब मौसम (Bad Weather) में उनके डूबने की घटनाएं बढ़ जाती हैं.

  • Share this:
ढाका. बांग्लादेश के बुरीगंगा नदी में सोमवार को एक नौका डूबने की घटना में 32 लोगों की मौत हो गई. मृतकों में दो बच्चे भी शामिल थे. दरअसल, नौका (Ferry) एक अन्य जहाज से टकरा गई थी, जिसके बाद यह हादसा हुआ. बांग्लादेश इनलैंड वाटर ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी (BIWTA) के अधिकारियों यह जानकारी दी. यह हादसा ढाका के श्यामबाजार के पास सुबह 9:30 बजे के करीब हुआ. बताया जा रहा है कि ड्राइवर्स की लापरवाही के कारण यह हादसा हुआ है. इस नौका में करीब 100 लोग सवार थे.

32 लोगों के शव अब तक ढूंढे जा चुके हैं, जबकि अन्य की तलाश अभी बाकी है. पुलिस ने बताया कि लापता लोगों की तलाश में थोड़ी मुश्किल आ रही है क्योंकि पानी काफी मिट्टी वाला है. जानकारी के अनुसार मृतकों में पांच महिलाएं और दो बच्चे भी शामिल थे. फिलहाल मृतकों की पहचान की जा रही है. 'मॉर्निंग बर्ड' नामक यह नौका ढाका से मुंशीगंज जा रही थी. तभी इसकी टक्कर 'मोयूर-2' नामक जहाज से हो गई. पुलिस ने बताया कि मोयूर-2 जहाज में सवार 1,000 यात्री सभी सुरक्षित हैं.

ये भी पढ़ें: अफगानिस्तान के हेल्मंद प्रांत में सड़क किनारे बम ब्लास्ट, छह लोगों की मौत



बांग्लादेश में ऐसी दुर्घटनाएं आम बात
बता दें, बांग्लादेश में ऐसी दुर्घटनाएं आम है. देश के कई शिपयार्ड में खराब सुरक्षा मानकों के कारण नौका दुर्घटनाएं होती है. वहीं ये नौकाएं भी क्षमता से ज्यादा लोगों को सवार कर लेती है और फिर खराब मौसम में उनके डूबने की घटनाएं बढ़ जाती हैं. इससे पहले 11 फरवरी को ही एक ऐसे ही हादसे में कम से कम 14 लोगों की डूबने से मौत हो गई थी. हालांकि तब 70 लोगों को बचा लिया गया. मछली पकड़ने वाली इस नाव पर करीब 130 लोग सवार थे. यह नाव बंगाल की खाड़ी से मलेशिया की ओर जा रही थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज