लाइव टीवी

बुर्किना फासो में आतंकी हमले में 35 लोगों की मौत, सेना ने जवाबी कार्रवाई में ढेर किए 80 जिहादी

News18Hindi
Updated: December 25, 2019, 10:09 AM IST
बुर्किना फासो में आतंकी हमले में 35 लोगों की मौत, सेना ने जवाबी कार्रवाई में ढेर किए 80 जिहादी
बुर्किना फासो की फाइल फोटो

बुर्किना फासो (Burkina Faso) में इस हमले में मारे जाने वालो नागरिकों में महिलाओं की संख्या ज्यादा है. इस हमले के जवाब में सैन्य कार्रवाई में 80 जिहादी मारे गए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 25, 2019, 10:09 AM IST
  • Share this:
बुर्किना फासो. पश्चिम अफ्रीकी देश बुर्किना फासो (Burkina Faso) के उत्तरी इलाके में स्थित एक कस्बे पर जिहादियों के हमले में 35 नागरिकों की मौत हो गई. मृतकों में अधिकांश महिलाएं बताई जा रही हैं. इस हमले के बाद सुरक्षा बलों के साथ हुई मुठभेड़ में 80 जिहादियों को भी मार गिराया गया. एक बयान के अनुसार बुर्किना फासो की माली से लगने वाली सीमा के पास साहेल क्षेत्र के अर्बिन्दा शहर में भड़की हिंसा कई घंटों तक चली. सुरक्षा बलों के सात सदस्य भी मारे गए.

राष्ट्रपति रोच मार्क क्रिश्चियन काबोर ने इस हमले पर कहा कि 'हमारे सैनिकों की वीरतापूर्ण कार्रवाई की और 80 आतंकवादियों मार गिराया. इस बर्बर हमले में 35 नागरिकों की मौत हुई, जिनमें से अधिकांश महिलाएं थीं.'

इस हमले की जिम्मेदारी किसी भी चरमपंथी संगठन ने नहीं ली है. इससे पहले बीते महीने कम से कम 37 नागरिक मारे गए थे, जब संदिग्ध जिहादियों ने पूर्वी बुर्किना फासो में कनाडाई खनन कंपनी सेमाफो के कर्मचारियों को ले जाने वाले काफिले पर हमला किया था.

 48 घंटे के राष्ट्रीय शोक की घोषणा



बुर्किना फासो के राष्ट्रपति रोश मार्क काबोर ने ट्वीट किया, ‘बर्बर हमले में 35 नागरिक मारे गए, जिनमें अधिकतर महिलाएं हैं.’उन्होंने साथ ही रक्षा एवं सुरक्षा बलों की वारता तथा प्रतिबद्धता की सराहना भी की. संचार मंत्री एवं सरकार के प्रवक्ता रेमीस डंडजिनौ ने बाद में बताया कि 31 महिलाएं मारी गई हैं और करीब 20 सैनिक घायल हुए हैं.

राष्ट्रपति ने 48 घंटे के राष्ट्रीय शोक की घोषणा की है. सेना ने बताया कि मोटरसाइकिलों पर सवार जिहादियों ने सुबह हमला किया जो कई घंटों तक चला. बाद में, वायु सेना की मदद से सशस्त्र सेना ने आतंकवादियों को खदेड़ दिया. किसी समूह ने तत्काल हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है, लेकिन अल-कायदा और इस्लामिक स्टेट समूह अक्सर यहां जिहादी हमलों को अंजाम देते रहते हैं. (एजेंसी इनपुट के साथ)

यह भी पढ़ें:  ब्रिटेन और शाही परिवार के लिए मुश्किलों भरा रहा यह साल : क्वीन एलिजाबेथ-II

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 25, 2019, 8:45 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर