Home /News /world /

आतंक के शिकार लिंट कैफे में लौटी जिंदगी!

आतंक के शिकार लिंट कैफे में लौटी जिंदगी!

वहां घूमते  हुए जरा भी एहसास नहीं होता कि ठीक चार महीने पहले यहां दो दिन तक कुछ जिंदगियां बंधक थीं, दो लोगों ने अपनी जान कुर्बान कर दी थी।

वहां घूमते हुए जरा भी एहसास नहीं होता कि ठीक चार महीने पहले यहां दो दिन तक कुछ जिंदगियां बंधक थीं, दो लोगों ने अपनी जान कुर्बान कर दी थी।

वहां घूमते हुए जरा भी एहसास नहीं होता कि ठीक चार महीने पहले यहां दो दिन तक कुछ जिंदगियां बंधक थीं, दो लोगों ने अपनी जान कुर्बान कर दी थी।

    IbnKhabarExclusive
    सिडनी। वहां घूमते हुए जरा भी एहसास नहीं होता कि ठीक चार महीने पहले यहां दो दिन तक कुछ जिंदगियां बंधक थीं, दो लोगों ने अपनी जान कुर्बान कर दी थी, ताकि बाकी लोगों की जिंदगी बच सके और उग्रवाद का खात्मा किया जा सके।

    सिडनी के मार्टिन प्लेस का यह इलाका आमतौर पर भीड़ से भरा होता है। यहीं चैनल नाईन का दफ्तर है, शेयर-मार्किट है और खाने-पीने का स्टॉल है। बीच में जगह-जगह बेंच लगी हैं, जहां लोग दोपहर में लंच करते नजर आते हैं तो शाम में चाय-कॉफी की चुस्की लेते नजर आ जाते हैं।

    यहीं वो लिंट कैफे भी है, जिस पर 15-16 की रात दहशतगर्दों ने हथियार के दम पर कुछ मासूम जानों को बंधक बना लिया था। लिंट कैफे वैसे तो चॉकलेट के लिए जाना जाता है, लेकिन इसका रेस्त्रां भी खूब चलता है। चॉकलेट के लिए ज्यादा जगह है, रेस्त्रां के लिए आधी ही है। उग्रवादी हमले के बाद से यह कैफे बंद था। इतनी तोड़फोड़ हो चुकी थी कि कैफे चालू करना संभव नहीं था। या शायद यह भी सोच रही हो कि उस बदनाम दिन का कोई नाम-ओ-निशां बाकी ना रहने दिया जाए।

    इसलिए लिंट कैफे को फिर से नई सज धज के साथ अभी बीस मार्च को शुरू किया गया है। फिर से वहां जिंदगी के सुर बजने लगे हैं और बारूद की जगह तरह-तरह की चॉकलेटों के फ्लेवर हवा में तैर रहे हैं। हां, यह भी बदलाव नजर आया कि अब दरवाजे पर ईरानी हट्टा-कट्टा गार्ड खड़ा है, जो हर एक से पूछता है ‘घर ले जाएंगे या यहीं खाएंगे?’

    अंदर उतनी भीड़ है, जैसी पहले रहा करती थी। कैफे के बाहर दुनिया भर का मीडिया है, जो यह बताने की कोशिश कर रहा है कि आतंक के आगे इस शहर ने सिर झुकाने से इंकार कर दिया है और फीनिक्स पक्षी की तरह अपनी ही राख से फिर जीवन पाया है। लिंट कैफे के बाहर खड़े होकर यह भरोसा होता है कि दहशतगर्दों की हरकतें यह आम आदमी की दुनिया अब बर्दाश्त नहीं करने वाली। लिंट कैफे में नजर आ रही जिंदगी, उग्रवाद को चुनौती देती नजर आ रही है।

    Tags: Sydney

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर