• Home
  • »
  • News
  • »
  • world
  • »
  • कनाडा में मध्यावधि चुनाव: मतदान से पहले मतदाताओं को रिझाने में जी-जान से जुटे उम्मीदवार

कनाडा में मध्यावधि चुनाव: मतदान से पहले मतदाताओं को रिझाने में जी-जान से जुटे उम्मीदवार

गवर्नर जनरल मैरी मे सिमोन से 338 सदस्यीय संसद को भंग करने का अनुरोध करने के बाद प्रधानमंत्री एवं लिबरल पार्टी के नेता जस्टिन ट्रूडो ने 15 अगस्त को अपने चुनाव अभियान की औपचारिक शुरुआत की थी.

गवर्नर जनरल मैरी मे सिमोन से 338 सदस्यीय संसद को भंग करने का अनुरोध करने के बाद प्रधानमंत्री एवं लिबरल पार्टी के नेता जस्टिन ट्रूडो ने 15 अगस्त को अपने चुनाव अभियान की औपचारिक शुरुआत की थी.

गवर्नर जनरल मैरी मे सिमोन से 338 सदस्यीय संसद को भंग करने का अनुरोध करने के बाद प्रधानमंत्री एवं लिबरल पार्टी के नेता जस्टिन ट्रूडो ने 15 अगस्त को अपने चुनाव अभियान की औपचारिक शुरुआत की थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    टोरंटो. कनाडा में मध्यावधि चुनाव के तहत 20 सितंबर को होने वाले मतदान से पहले मतदाताओं को रिझाने के लिए शनिवार को उम्मीदवार जी-जान से जुटे नजर अए. भारतीय मूल के करीब 50 प्रत्याशी भी इस चुनावी समर में अपनी राजनीतिक किस्मत आजमा रहे हैं. गवर्नर जनरल मैरी मे सिमोन से 338 सदस्यीय संसद को भंग करने का अनुरोध करने के बाद प्रधानमंत्री एवं लिबरल पार्टी के नेता जस्टिन ट्रूडो ने 15 अगस्त को अपने चुनाव अभियान की औपचारिक शुरुआत की थी. ट्रूडो (49) ने कोविड-19 महामारी के प्रबंधन पर अपने कौशल को परखने एवं समर्थन जुटाने के लिए निर्धारित समय से दो साल पहले ही चुनाव का आह्वान कर दिया.

    लिबरल नेता ने माना है कि शायद कुछ मतदाता यह नहीं सोचते हैं कि महामारी से आगे निकलने के लिए चुनाव देश के लिए जरूरी है लेकिन सोमवार का दिन विकल्प चुनने के लिए अहम है. उन्होंने प्रगतिशील मतदाताओं से उनकी पार्टी का समर्थन करने का आह्वान किया.

    इस चुनाव में लड़ रहे बड़े दलों में लिबरल पार्टी, कंजरवेटिव पार्टी, ग्रीन पार्टी, न्यू डेमोक्रेटिक पार्टी और ब्लॉक क्यूबकोइस हैं. न्यू डेमोक्रेटिक पार्टी के प्रमुख भारतीय मूल के जसमीत सिंह हैं.

    क्या NRI साबित होंगे कनाडा में किंगमेकर ?
    भारतीय मूल के लोग कनाडा की आबादी का केवल 4 प्रतिशत हिस्सा हैं, फिर भी भारतीय-कनाडाई लोगों को व्यापक रूप से इस उत्तरीे- अमेरिकी देश में आर्थिक, और अब राजनीतिक, विकास में एक मजबूत ताकत के रूप में मान्यता दी गई है.

    वर्तमान में हाउस ऑफ कॉमन्स के 338 सदस्यों में से 22 भारतीय मूल के हैं, जिनमें तीन कैबिनेट सदस्य भी शामिल हैं. इन 22 भारतीय मूल के सांसद में से 18 सांसद सिख समुदाय से थे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज