शार्ली एब्दो के पुराने ऑफिस के पास हमले में 4 घायल, पत्रिका ने छापा था पैगबंर का कार्टून

फ्रांस की व्यंग्य पत्रिका शार्ली एब्दो के पैगंबर मोहम्मद साहब के कार्टून छापने पर पाकिस्तान में बहुत रोष देखा गया था. (Photo: AP)
फ्रांस की व्यंग्य पत्रिका शार्ली एब्दो के पैगंबर मोहम्मद साहब के कार्टून छापने पर पाकिस्तान में बहुत रोष देखा गया था. (Photo: AP)

फ्रांस की राजधानी पेरिस में आतंकवादियों (Terrorist Attack) ने शार्ली एब्दो के पुराने ऑफिस के पास चाकू से कुछ लोगों पर हमला किया है. इस हमले में चार लोगों के घायल होने की खबर है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 26, 2020, 7:52 AM IST
  • Share this:
पेरिस. फ्रांस की व्यंग्य पत्रिका शार्ली एब्दो (Charlie Hebdo) को मोहम्मद पैगबंर का कार्टून (Cartoon of Prophet Mohammed) छापना भारी पड़ा है. फ्रांस की राजधानी पेरिस में आतंकवादियों (Terrorist Attack) ने शार्ली एब्दो के पुराने ऑफिस के पास चाकू से कुछ लोगों पर हमला किया है. इस हमले में चार लोगों के घायल होने की खबर है. इनमें से दो की हालत बहुत ही गंभीर बताई जा रही है. पुलिस ने बयान जारी कर कहा है कि इस घटना में शामिल दो संदिग्‍ध घटना के बाद से फरार हैं और उनकी तलाश जारी है.

पत्रिका ने इस महीने छापा था कार्टून

इस महीने के शुरूआत में पत्रिका ने मोहम्मद पैगंबर साहब का एक कार्टून प्रकाशित किया था. पत्रिका ने ऐसी ही घटना को पांच साल पहले भी अंजाम दिया था. पत्रिका की इस हरकत से दुनिया भर में आलोचना हुई थी. पत्रिका के सितंबर 2020 में प्रकाशित किए कार्टून ने बवाल खड़ा कर दिया है. इस घटना को लेकर पाकिस्तान में पत्रिका के खिलाफ काफी रोष देखा गया था. पत्रिका के खिलाफ पाकिस्तान के एक धार्मिक समूह तहरीक-ए-लबैक ने जमकर नारे लगाए. लाहौर में इस संगठन के बैनर के तले हजारों लोगों ने इकट्ठा होकर लाहौर की सड़कों पर प्रदर्शन भी किया था.



पांच साल पहले भी मोहम्मद साहब का कार्टून किया था प्रकाशित
शार्ली एब्दो पत्रिका ने पांच साल पहले भी मोहम्मद साहब का एक कार्टून प्रकाशित किया था. इसके बाद पत्रिका के दफ्तर पर आतंकी हमला हुआ था. तीन दिनों तक चलते रहे इस हमले में एक पुलिसकर्मी समेत 12 लोग मारे गए थे. जनवरी 2015 में आतंकी हमले से तहस नहस हो गई पत्रिका शार्ली एब्दो ने हाल में फिर वही पुराना कार्टून प्रकाशित किया क्योंकि अब जाकर उस आतंकी हमले में कानूनी ट्रायल शुरू होने जा रहा है.

ये भी पढ़ें: मक्का में उमरा की मिली इजाजत, भारत समेत इन देशों के यात्रियों पर बैन


मलेशिया में विपक्ष के नेता ने कहा-हम बनाएंगे सरकार, हमारे पास है बहुमत 

पत्रिका ने साफ कहा है कि उसके दो प्रमुख पत्रकार इस पूरे ट्रायल को कवर करेंगे. ट्रायल की शुरूआत को एक ऐतिहासिक घटना के रूप में दर्ज करने के मकसद से प​त्रिका ने उन कार्टूनों को फिर छापा, जिनकी वजह से वो भीषण आतंकी हमला हुआ था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज