लाइव टीवी

अल्बानिया: भूकंप में मरने वालों की संख्या 50 पर पहुंची, तलाश और बचाव अभियान किया बंद

भाषा
Updated: December 1, 2019, 9:43 AM IST
अल्बानिया: भूकंप में मरने वालों की संख्या 50 पर पहुंची, तलाश और बचाव अभियान किया बंद
अल्बानिया में भूकंप

अल्बानिया (Albania) में विनाशकारी भूकंप से मरने वालों की तादाद 50 पर पहुंच गई है. प्रधानमंत्री एदी रामा ने कहा कि तिराना में 1,465 और पडो़सी शहर ड्यूर्स में 900 घर बुरी तरह क्षतिग्रस्त हुए हैं.

  • Share this:
तिराना (अल्बानिया). अल्बानिया (Albania) में मंगलवार तड़के आए भूकंप (Earthquake) के बाद शुरू किए गए तलाश एवं बचाव अभियान को बंद कर दिया गया है. राहत एजेंसियों के अनुसार मलबे में और लोगों के दबे होने की उम्मीद नहीं है. वहीं, विनाशकारी भूकंप से मरने वालों की तादाद 50 पर पहुंच गई है. प्रधानमंत्री एदी रामा ने कहा कि प्रारंभिक आंकड़ों के अनुसार मंगलवार तड़के आए 6.4 तीव्रता के भूकंप में राजधानी तिराना में 1,465 और पडो़सी शहर ड्यूर्स में 900 घर बुरी तरह क्षतिग्रस्त हुए हैं.

स्वास्थ्य अधिकारियों के अनुसार लगभग दो हजार लोग घायल हुए हैं. एक महिला कोमा में है. शुरुआती आकंड़ों के अनुसार कम से कम चार हजार लोग बेघर हुए हैं. क्षतिग्रस्त मकानों में रहने वाले लगभग 2,500 लोग होटलों में शरण लिये हुए हैं.

रक्षा मंत्रालय ने बताया कि तिराना से 33 किलोमीटर दूर दुर्रेस में ढही इमारत से सात शव बाहर निकाले गए. थुमाने शहर में भी एक इमारत ढहने के बाद मलबे से पांच लोगों के शव निकाले गये. अल्बानिया के राष्ट्रपति इलिर मेटा ने कहा कि थुमाने में स्थिति काफी गंभीर है.

प्रधानमंत्री रामा ने कहा कि इस आपदा के समय हमें शांत रहने की जरूरत है, दुख की इस घड़ी में हमें एक दूसरे का साथ देने की जरूरत है. यूएस जियोलॉजिकल सर्वे (US Geological Survey) ने कहा, दो महीने में यह दूसरा शक्तिशाली झटका था. रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि फायरफाइटर्स और मिलिटरी डुरेस और पास के गांव थुमने में मलबे के नीचे फंसे निवासियों की मदद कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें : लंदन ब्रिज हमला: आतंकी गतिविधियों के कारण पहले भी सजा काट चुका था हमलावर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 1, 2019, 9:43 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...