नीदरलैंड्स में 89 वर्षीय महिला कोरोनावायरस से दोबारा हुईं संक्रमित, मौत

नीदरलैंड्स में 89 साल की महिला के कोरोनावायरस से दोबारा संक्रमित होने से मौत हो गई. (सांकेतिक तस्वीर)
नीदरलैंड्स में 89 साल की महिला के कोरोनावायरस से दोबारा संक्रमित होने से मौत हो गई. (सांकेतिक तस्वीर)

नीदरलैंड्स (Netherlands) में कैंसर (Cancer) से पीड़ित एक महिला की कोरोनावायरस (Coronavirus) से दोबारा संक्रमित (Re-Infected With Covid-19) होने से मौत हो गई

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 14, 2020, 12:18 PM IST
  • Share this:
एम्सटर्डम. दुनियाभर में पिछले 8-9 महीनों से कोरोनावायरस (Coronavirus) का कहर जारी है. कोरोनावायरस के संक्रमण को लेकर हर रोज नई-नई जा​नकारियां आ रही हैं और हमें चौंकाती रहती है. एक ऐसा ही मामला नीदरलैंड्स (Netherlands) में आया है. यहां कैंसर (Cancer) से पीड़ित एक महिला की कोरोना वायरस  से दोबारा संक्रमित (Re-Infected With Covid-19) होने से मौत हो गई. डॉक्टरों का कहना है कि महिला में दूसरे संक्रमण की संभावना ज्यादा है क्योंकि ये वायरस दूसरी तरह का था. मृतक महिला डच थी और उन्हें दो महीने के अंतराल पर दूसरी बार कोरोनावायरस से संक्रमित पाया गया. यह बताया जा रहा है कि इस उम्र में दूसरी बार कोविड-19 पॉजिटिव होकर मरने का यह दुनिया का पहला मामला है. गौरतलब है कि महिला की ये रिपोर्ट ऐसे समय में आई है जब अमेरिका के नेवादा में डॉक्टरों ने एक 25 वर्षीय युवक में दोबारा वायरस के संक्रमण की पुष्टि की है.

दूसरे टेस्ट में मिले वायरस में 10 तरह के जे​नेटिक बदलाव दिखे

इस महिला को कैंसर था. महिला में वायरस के जेनेटिकली दो अलग-अलग स्ट्रेन पाए गए थे. महिला का दो महीने के उपरांत दूसरे टेस्ट में जो वायरस मिला था उसमें डॉक्टरों ने 10 तरह के जेनेटिक बदलाव देखे गए थे. इसके आधार पर डॉक्टरों ने यह अनुमान लगाया गया कि यह किसी दूसरे वायरस का संक्रमण भी हो सकता है.



पहली बार संक्रमित होने पर पांच दिन में ही हॉस्पिटल से मिली थी छुट्टी
ताज्जुब तो यह है कि महिला की अपने पहले और दूसरे संक्रमण के बीच में कभी भी टेस्ट की रिपोर्ट निगेटिव नहीं आई थी. अगर महिला का कोरोना टेस्ट निगेटिव पाया जाता तो डॉक्टरों को इस बीमारी के संदर्भ में अध्ययन करने और निष्कर्ष तक पहुंचने में अधिक मदद मिल पाती. महिला को पहली बार कोविड पॉजिटिव तब पाया गया था जब वह बुखार और कफ की शिकायत लेकर हॉस्पिटल गई थी. उसे हॉस्पिटल में भर्ती कर लिया गया था लेकिन पांच दिन बाद उनमें कोरोना के कोई लक्षण नहीं दिखाई देने पर उन्हें छुट्टी दे दी गई थी.

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान की इमरान सरकार जनवरी से पहले सत्ता से बाहर हो जाएगी: मरियम नवाज

ट्रंप की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव, फ्लोरिडा में रैली की और कहा- मैं पहले से पॉवरफुल

महिला के हॉस्पिटल से घर लौटने के ठीक 59 दिन बाद वह उन्हीं लक्षणों के साथ फिर से अस्पताल वापस पहुंची. इस महिला का दो दिन पहले कीमियोथेरेपी हुई थी. डॉक्टरों का कहना है कि कीमियोथेरेपी के बाद महिला की इम्युनिटी बुरी तरह प्रभावित हो गई होगी और वह टेस्ट के दौरान कोविड-19 पॉजिटिव पाई गईं. उसे अस्पताल में भर्ती किया गया जहां 3 सप्ताह बाद उसकी मौत हो गई. डॉक्टर ने महिला की रिपोर्ट में लिखा कि दोनों रिपोर्ट में कोरोना वायरस के सैंपल बिल्कुल अलग तरह के थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज