लाइव टीवी

सूरज से हजार गुना बड़े तारे में होने वाला है विस्फोट, धरती से भी देख सकेंगे ये अद्भुत नजारा

News18Hindi
Updated: February 15, 2020, 9:51 AM IST
सूरज से हजार गुना बड़े तारे में होने वाला है विस्फोट, धरती से भी देख सकेंगे ये अद्भुत नजारा
सूरज से हजार गुना बड़े तारे में होने वाला है विस्फोट

ये तारा अब सुपरनोवा चरण (supernova phase) की ओर आगे बढ़ रहा है. ऐसे में इसमें विस्फोट की संभावना है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 15, 2020, 9:51 AM IST
  • Share this:
वॉशिंगटन. आकाशगंगा (Galaxy) के सबसे चमकीले तारों में से एक 'बीटलग्यूज' (Betelgeuse)अब अपनी चमक खोने लगा है. बीटलग्यूज, लाल रंग का तारा है जो ओरायन तारामंडल (Orion constellation) का हिस्सा है. ये तारा अब सुपरनोवा चरण (supernova phase) की ओर आगे बढ़ रहा है. ऐसे में इसमें विस्फोट की संभावना है. सुपरनोवा एक शक्तिशाली तारकीय विस्फोट है, जिसके कारण तारा हमेशा के लिए खत्म हो जाता है.

स्लेट की एक रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले कुछ महीनों में बीटलग्यूज की चमक कम होने की वजह से इसे 12वें सबसे चमकीले तारे से हटाकर 20वें स्थान पर रखा गया है. पृथ्वी से 642.5 प्रकाश वर्ष स्थित यह तारे में अगर विस्फोट होता है तो यह इंसानों को दिखाई देने वाला पहला सबसे पास का सुपरनोवा हो सकता है.

CNET की रिपोर्ट है कि एडवर्ड गिनान द्वारा एकत्र किए गए आंकड़ों के अनुसार, विलेनोवा विश्वविद्यालय के एक खगोलविद ने बताया कि बीटलग्यूज 430 दिनों के बीच अपनी रोशनी खत्म कर सकता है. उन्होंने कहा कि हमारे आंकड़े अगर सटीक बैठते हैं तो बीटलग्यूज 21 फरवरी को अपनी सबसे कम चमक पर पहुंच जाएगा.

इसे भी पढ़ें :- चांद पर जाने के लिए अंतरिक्ष यात्री खोज रहा नासा, आप में है ये काबिलियत तो कर सकते हैं अप्लाई

सूरज से हजार गुना बड़ा है बीटलग्यूज
ज्यादात खगोलविदों का मानना है कि बीटलग्यूज अपने पतन की ओर आगे बढ़ रहा है. बीटलग्यूज, सूरज की तुलना में हजार गुना अधिक बड़ा है. अगर यह हमारे सौरमंडल में प्रवेश कर जाए तो बृहस्पति ग्रह की कक्षा से भी बड़ा होगा. यही कारण है कि ज्यादातर खगोलविद इसे 'सुपरजायंट्स' कहते हैं. इस तरह के तारे काफी तेजी से बढ़ते हैं और विस्फोट के साथ ही विलीन हो जाते हैं.

इसे भी पढ़ें :- 55 हजार किमी/घंटे की रफ्तार से धरती की ओर बढ़ रहा एस्‍ट्रॉयड, पृथ्वी से टकराने की खबरें हैं गलत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 15, 2020, 9:06 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर